न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पुलिस के काफिले पर तालिबान का हमला, 22 पुलिसकर्मी मारे गये

काबुल में रहने वाले अल्पसंख्यक शिया समुदाय के लोग स्थानीय मिलीशिया कमांडर की गिरफ्तारी के विरोध में पिछले दो दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रां

15

 Kabul :  पश्चिमी अफगानिस्तान में तालिबान ने पुलिस के एक काफिले पर सोमवार को घात लगाकर हमला किया, जिसमें 22 पुलिसकर्मियों की मौत हो गयी.  अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी.
वहीं काबुल में रहने वाले अल्पसंख्यक शिया समुदाय के लोग स्थानीय मिलीशिया कमांडर की गिरफ्तारी के विरोध में पिछले दो दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रांतीय परिषद के एक सदस्य दादुल्लाह कानेह के अनुसार पश्चिमी फराह प्रांत में रविवार की दोपहर तालिबान का हमला हुआ.  इसमें प्रांत के पुलिस उप प्रमुख समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गये.  हमला लश वा जुवायन जिले के नजदीक हुआ.  परिषद के अन्य सदस्य अब्दुल समद सलेही ने बताया कि पुलिस का काफिला जिले के नव नियुक्त पुलिस प्रमुख का परिचय कराने जा रहा था तभी यह हमला हुआ.  कानेह ने बताया कि इस हमले में नव नियुक्त प्रमुख की भी मौत हो गयी.  अफगानिस्तान के सुरक्षा बल लगातार देश में इस तरह के हमलों का सामना कर रहे हैं.  अफगानिस्तान में हाल के दिनों में लगातार ऐसे हमले हुए हैं. इससे पहले शुक्रवा को सेना के शिविर स्थित मस्जिद में आत्मघाती हमला हुआ था.

तालिबान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली

तालिबान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.  इस बीच, काबुल के पश्चिम में शिया प्रदर्शनकारियों ने कुछ सड़कें विरोध प्रदर्शन के दौरान जाम कर दीं.  यह विरोध प्रदर्शन पश्चिमी ग़ोर प्रांत में शिया मिलीशिया का नेतृत्व करने वाले अलीपूर की गिरफ्तारी के विरोध में किया जा रहा है.  फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि अलीपुर पर क्या आरोप लगाये गये हैं लेकिन प्रशासन के सहयोगी समझे जाने वाले मिलीशियाओं पर अक्सर जबरन धन वसूली और माफिया जैसा आचरण करने के आरोप लगते हैं.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: