LIFESTYLE

#CoronaCrisis में इम्यूनिटी का रखें खास ध्यान, जानें किन चीजों से बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता

NW Desk: देश-दुनिया कोरोना वायरस के वैश्विक महामारी से जूझ रही है. रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी हमें कई बीमारियों से बचा के रखती है. छोटी-मोटी ऐसी कई बीमारियां होती हैं जिनसे हमारा शरीर खुद ही निपट लेता है. कई रिपोर्ट्स में इस बात का दावा किया जा चुका है कि कोरोना वायरस की चपेट में वो लोग भी आसानी से आ रहे हैं जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है.

इसे भी पढ़ेंःकर्नाटक: कोरोना के 45 नये केस, पांच महीने की बच्ची भी संक्रमित, मरीजों की संख्या बढ़कर 750 

हमारे इम्यूनिटी का सीधा संबंध हमारे खान-पान से है. अगर खान-पान सही होगा, हेल्दी डाइट लेंगे तो शरीर का इम्यून सिस्टम बढ़ता है. हालांकि अभी तक ऐसी कोई रिसर्च सामने नहीं आई है जिससे यह पता चले कि किसी खास फूड आइटम कोरोना वायरस से लड़ने में मददगार है.

advt

लेकिन विभिन्न स्टडीज में ये बात जरूर सामने आयी है कि कुछ खाद्य पदार्थ हमारे लिए काफी फायदेमंद हैं और हमारे स्वास्थ्य में सुधार करने के साथ-साथ शरीर में अन्य आक्रामक वायरस से लड़ने की क्षमता को मजबूत करते हैं. एक्सपर्ट्स की मानें तो कुछ चीजों को अपनी डाइट में शामिल कर इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है. आइए जानते हैं क्या हैं वो चीजें.

लाल शिमला मिर्च

लाल शिमला मिर्च में विटामिन सी प्रचूर मात्रा में पाया जाता है. अमेरिकी कृषि विभाग के अनुसार, एक कप कटी हुई लाल शिमला मिर्च में लगभग 211 फीसदी विटामिन सी होता है, जो संतरे में मिलने वाले विटामिन सी का दोगुना होता है.

2017 में, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार, विटामिन सी शरीर में उन कोशिकाओं को मजबूत करता है जो इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं. इसके अलावे यह श्वसन संक्रमण के खतरे को भी कम करता है.

adv

ब्रोकली

ब्रोकली भी विटामिन सी सबसे ज्यादा होता है. कहा जा है कि आधे कप ब्रोकली में 43 फीसदी विटामिन सी होता है. और इतना विटामिन सी की ही शरीर को रोजाना जरुरत होती है.

एक्सपर्ट्स का कहना है, ‘ब्रोकोली फाइटोकेमिकल्स और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होती है जो हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत करती है. इसमें विटामिन ई भी होता है, जो एक एंटीऑक्सीडेंट है और बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में मदद करता है.

इसे भी पढ़ेंःसचिन, द्रविड़, पोंटिंग कभी नहीं जमा पाये तिहरा शतक, कोहली को भी है इंतजार

चने

चने में बहुत सारा प्रोटीन होता है.  प्रोटीन से हमारे शरीर को L-Arginine अमीनो एसिड मिलता है, जो हमारे शरीर में हेल्पर टी-सेल्स को जनरेट करने में मदद करता है.

ये टी-सेल्स हमारी रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ानेवाली सेल्स को एनर्जी देती हैं. इसके साथ ही चने में प्रचुर मात्रा में जिंक पाया जाता है जो इम्यून सिस्टम और इम्यून रिस्पॉन्स को नियंत्रित करता है.

स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी विटामिन सी का बड़ा स्त्रोत है.  विशेषज्ञ कहते हैं कि एक दिन के विटामिन C की जरूरत को पूरा करने के लिए आधा कप स्ट्रॉबेरी काफी है.

लहसुन

लहसुन ना सिर्फ खाने में स्वादिष्ट बनाता है, बल्कि इसके सेवन के कई फायदे भी हैं. ब्लड प्रेशर और दिल से जुड़ी बीमारियों के खतरे को लहसुन का सेवन कम करता.

लहसुन में पाये जाने वाले सल्फर यौगिक की वजह से यह संक्रमणों से लड़ने में मदद करता है. इसके अलावा ये इम्यूनिटी भी बढ़ाता है. इतना ही नहीं लहसुन शरीर को सर्दी-खांसी से भी बचाता है.

मशरूम

वैसे तो धूप विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत है, लेकिन मशरूम सहित कुछ खास खाद्य पदार्थों में विटामिन डी मिलता है. 2018 में, विटामिन डी स्रोत के रूप में मशरूम के उपयोग पर एक समीक्षा की गई थी.

जिसमें पाया गया कि मशरूम कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाता है, जो हड्डियों के लिए काफी फायदेमंद है. साथ ही विटामिन डी इंफेक्शन से फाइट में मदद करनेवाली टी-सेल्स को एनर्जी देने का काम करती है.

पालक

पालक विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट्स का अच्छा स्त्रोत है. और विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट्स पर्यावरण से होने वाले नुकसान से हमारी कोशिकाओं को बचाता है.

इसके अलावा, पालक विटामिन ए का भी मुख्य स्त्रोत है, क्योंकि इसमें बीटा कैरोटीन पाया जाता है. विटामिन ए इम्यून फंक्शन को सही ढंग से चलाने के लिए जरूरी होता है.

इसे भी पढ़ेंःमजदूर की रोटी पर खून के धब्बे, जिम्मेदार कौन ?

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button