न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Tag

Food Supply Minister

सरयू राय ने अब केंद्र सरकार से की राशन कार्ड बनाने का नियम बदलने की मांग की, भारत सरकार को लिखा पत्र

नियम नहीं बदलने पर सभी योग्य लाभुकों को नहीं मिल पायेगा राशन कार्डRanchi : झारखंड सरकार के खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय ने पत्र लिखकर भारत सरकार से राशन कार्ड बनाने का नियम बदलने की मांगी की है. वर्तमान में राशन कार्ड वितरण के लिए…

विकास योजना का हाल : गरीब विधवा मुन्नी देवी और उनके बच्चों को एक साल से नसीब नहीं हुई है दाल

James HerenjLatehar : दावे कहते हैं कि राज्य में पिछले दो सालों में भूख और भूख जनित बीमारियों से 19 मौतें हो चुकी हैं. हालांकि, झारखंड सरकार से लेकर पूरा का पूरा सरकारी महकमा इन दावों को नकारता रहा है. जबकि, जमीनी हकीकत बताती है कि राज्य…

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत सभी राशनकार्डधारियों को मिलेगा रसोई गैस कनेक्शन : सरयू राय

मंत्री ने कहा- विदेशी चंदे से चलनेवाली संस्थाओं की रिपोर्ट पर नहीं करें भरोसा, गलत खबरों का तुरंत खंडन करें अधिकारीRanchi : राज्य के खाद्य, सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री सरयू राय ने कहा है कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला…

धान खरीद : सीएम की मंजूरी मिली, तो किसानों को मिलेगा 200 रुपये प्रति क्विंटल बोनस

Ranchi : भारत सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर झारखंड के किसानों से धान खरीद प्रक्रिया आरंभ हो गयी है. वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए धान खरीद का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1700 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है. वहीं, एक प्रस्ताव…

चार साल का समय था, क्यों नहीं सरकार ने पारा शिक्षकों के लिए नीति बनायी, हर बार लॉलीपॉप दिया : सरयू…

Ranchi : 15 नवंबर, यानी स्थापना दिवस के दिन जो घटना मोरहाबादी मैदान में पारा शिक्षकों के साथ हुई, उसे लेकर सूबे के खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय ने सरकार पर कई सवाल उठाये. उन्होंने न्यूज विंग के ब्यूरो चीफ अक्षय कुमार झा से एक्सक्लूसिव…

ऐसा लगता है, जैसे झारखंड सरकार के विभागों ने अनियमितताएं करने की कसम खा ली है : मंत्री सरयू राय

Ranchi : मुख्यमंत्री रघुवर दास और सरकार के विभागों के मंत्री और सचिवों को अनियमितताओं पर हमेशा चिट्ठी लिखकर अलर्ट करनेवाले सरकार के खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय ने इस बार सरकार के मुख्य सचिव को एक खत लिखा है. हर बार की तरह इस बार भी खत में…