न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Tag

रांची नगर निगम

#RMC: फॉगिंग का रोस्टर जारी, वार्डों में वाहन नहीं पहुंचने पर करें शिकायत

Ranchi: राजधानी के विभिन्न वार्डों में मच्छरों के बढ़ते प्रकोप को देख रांची नगर निगम इसके समाधान में जुट गया है. सभी 53 वार्डों में फॉगिंग कराने के लिए निगम की तरफ से एक रोस्टर तैयार किया गया है. यह रोस्टर 1 से 29 फरवरी तक के लिए बना है.…

खतरा बरकरार : अब भी खुली हैं राजधानी की 8.5 लाख मीटर नालियां, ढंकने में लग सकता है लंबा समय

Ranchi : पिछले दिनों हिंदपीढ़ी स्थित नाला रोड में डूबने से हुई बच्ची की मौत के बाद अब रांची नगर निगम सभी नालियों को स्लैब से ढंकने का काम कर रहा है. लेकिन जमीनी हकीकत यही है कि अभी भी राजधानी की करीब 8.5 लाख मीटर नालियां पूरी तरह से खुली…

अब सर्जना चौक से उर्दू लाइब्रेरी तक होगा नो वेंडिंग जोन, चार गलियों में बनेगा पार्किंग स्थल

Ranchi : राजधानी के कचहरी चौक से सर्जना चौक को नो वेंडिग जोन बनाने के बाद अब रांची नगर निगम मेन रोड को भी ऐसा करने की तैयारी में है. इसके लिए डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय और उनकी टीम ने सोमवार को सर्जना चौक से उर्दू लाइब्रेरी तक के मार्ग का…

सिविल सोसाइटी ने उठाया सवाल, कौन दे रहा है इंजीनियर घनश्याम अग्रवाल को संरक्षण

Ranchi: सड़क बनाने वाले इंजीनियर घनश्याम अग्रवाल को आरआरडीए का टाउन प्लानर बनाने को लेकर झारखंड सिविल सोसाइटी ने चिंता जतायी है. साथ ही सवाल उठाया है कि इंजीनियर घनश्याम अग्रवाल को कौन संरक्षण दे रहा है.नगर विकास विभाग के मंत्री, सचिव या…

RRDA-NIGAM: कौन है अजीत, जिसके पास होती है हर टेबल से नक्शा पास कराने की चाबी

Ranchi: रांची के बिल्डर्स के बीच एक नाम बहुत चर्चित है. वह नाम है अजीत. जिसके पास आरआरडीए व नगर निगम के हर टेबल की चाबी है.नक्शा पास कराने के लिये बस अजीत से संपर्क कर लें, हर टेबल से नक्शा क्लीयर होते हुए टाउन प्लानर के टेबल से पास हो…

निगम के प्लम्बर करते हैं मनमानी, 10,000 से 12,000 रुपये तक वसूसते हैं चार्ज

Ranchi :  रांची नगर निगम के अंतर्गत रजिस्टर्ड प्लम्बर उपभोक्ताओं के घर तक पानी पाइप लगाने में मनमानी राशि वसूलते हैं. आमतौर पर यह राशि करीब 10,000 से 12,000 रूपये तक होता है. जबकि हकीकत यह है कि केवल सामान्य सड़कों में ही जलापूर्ति पाइप…

आदरणीय प्रधानमंत्री जी की रांची यात्रा, रांची शहर की साफ़-सफ़ाई की मौजूदा हालत और सिविल सोसायटी के…

Rajesh Kumar Dasरांची शहर से एस्सेल इंफ्रा कंपनी को हटाकर फिर किसी कंपनी या संस्था या निगम को ही इस शहर के सफ़ाई के काम को सुपुर्द करना फिर से एक ग़लत निर्णय होगा. बजाय इसके की बार-बार जनता को पीड़ा हो, यह एक अच्छा मौक़ा है कि इस बार नए…

सचिव ने नगर आयुक्त को कहा- एस्सेल इंफ्रा को टर्मिनेट करने में सक्षम है रांची नगर निगम

RANCHI : रांची नगर निगम अंतर्गत सफाई कार्य कर रही रांची एमएसडब्ल्यू (रांची नगर निगम और एस्सेल इंफ्रा का ज्वाइंट वेंचर) को टर्मिनेट करने का अधिकार निगम को दिया गया है. नगर विकास सचिव अजय कुमार सिंह इसके लिए नगर आयुक्त मनोज कुमार को एक पत्र…

निगम में सारी खुदाई एक तरफ और साहेब के साले एक तरफ

Ranchi: कहावत है सारी खुदाई एक तरफ और जोरू का भाई एक तरफ. लेकिन निगम में यह चरितार्थ भी हो रहा है. कहानी रांची नगर निगम की है. दरअसल हुआ कुछ ऐसा कि साहेब को मन मुताबिक पोस्टिंग नहीं मिलने की वजह से मजबूरन रांची नगर निगम में आना पड़ा. आते ही…

नौकरी के अंतिम दिन नगर निगम के टाउन प्लानर उदय सहाय ने 30 से अधिक भवन प्लान पर किया डिजिटल सिग्नेचर

Ranchi: रांची नगर निगम के टाउन प्लानर उदय सहाय (अब सेवानिवृत) ने अपने कार्यकाल के अंतिम दिन 30 से अधिक भवन प्लान (नक्शा) पर अपने डिजिटल सिग्नेचर अंकित किये. श्री सहाय 28 फरवरी 2019 को सेवानिवृत हुए थे. इन भवन प्लान में 20 बहुमंजिली इमारतों…