न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Tag

पारा शिक्षक

झारखंड में स्थापित की जायेगी जनजातीय विश्वविद्यालय की शाखाः मुख्यमंत्री

HEC की जमीन पर झुग्गी बना कर रहनेवाले गरीबों को पुनर्वासित किया जायेगा दुमका में कमर्शियल पायलट प्रशिक्षण के लिए NOC पर सहमतिRanchi: झारखंड में संस्कृत महाविद्यालय की स्थापना की जायेगी. इसके अलावा जनजातीय विश्वविद्यालय की शाखा…

चतराः आर्थिक तंगी से जूझ रहे पारा शिक्षक की उचित इलाज के अभाव में मौत

Chatra: सूबे में पारा शिक्षकों की हालत किसी से छिपी हुई नहीं है. लगातार आर्थिक तंगी से जूझ रहे इन शिक्षकों को परेशानी कम होती नहीं दिख रही. एक ओर कम मानदेय, ऊपर से उनका भी समय पर नहीं मिलना, मुश्किलों को और बढ़ा देता है.ऐसी ही तंगी झेल…

कई माह से नहीं मिला मानदेय, आर्थिक तंगी झेल रहे पारा शिक्षक की मौत

45 वर्षीय पारा शिक्षक पिछले महीने से बीमार था प्रखंड के 190 पारा शिक्षक आर्थिक तंगी की मार झेलने को मजबूरPakur: पाकुड़ के मोहनपुर स्थित उत्क्रमित उच्च विद्यालय के पारा शिक्षक महेंद्र प्रसाद भगत आर्थिक तंगी झेलते हुए शनिवार को चल…

पारा शिक्षकों को 10 जून तक मई माह का मानदेय देने का वादा पूरा नहीं कर सकी सरकार

Ranchi: पारा शिक्षकों के प्रति राज्य सरकार की उदासीनता जग जाहिर है. सरकार ने जितने वायदे इन शिक्षकों से किये, उनमें से कोई भी वादा राज्य सरकार पूरा नहीं कर पायी. इसी साल झारखंड शिक्षा परियोजना की ओर से पारा शिक्षकों के बकाये का भुगतान करने…

दर्द-ए-पारा शिक्षक: परिवार में तीन शिक्षक, सिर पर दो लाख का कर्ज-कई महीनों से घर में नहीं पकी दाल

Ranchi: परिवार में एक या दो सदस्य अगर पारा टीचर हो तो घर की क्या हालत होती है, हमने आपको बताया. लेकिन परिवार में अगर तीन-तीन लोग पारा टीचर हो तो क्या होगा. वो भी तब जब परिवार के पास आजीविका का कोई दूसरा साधन न हो.हमें एक ऐसा ही परिवार…

मानदेय नहीं मिलने से परेशान पारा शिक्षक ने की आत्मदाह की कोशिश, डीसी ऑफिस के सामने हंगामा 

Dhanbad: झारखंड में पारा शिक्षक अपनी उपेक्षाओं से बेहाल है. मानदेय नहीं मिलने से परेशान पारा शिक्षकों ने एकबार फिर सरकार-प्रशासन के खिलाफ बिगूल फूंक दिया है.धनबाद में इसकी बानगी देखने को मिली, जहां विगत छह माह से बकाये मानदेय भुगतान नहीं…

दर्द ए पारा शिक्षक : आखिर क्यों शिक्षक को हिंदुस्तान यूनिलिवर में साबुन छंटाई का काम करना पड़ रहा है

ChhayaRanchi :  किस्मत का खेल ही कहें कि आर्मी के लिए चयनित तो हो गये लेकिन आंखों की बीमारी के कारण बहाली नहीं हो पायी और पारा शिक्षक बन गये. ये कोई किताबी लाईन नहीं है, ये एक पारा शिक्षक की मर्माहत करने वाली सच्ची घटना है. जरिया गांव के…

दर्द ए पारा शिक्षक: साढ़े चार बजे सुबह उठ कर लाह, महुआ, करंज और इमली चुनते हैं राजू लकड़ा

लदनापीढ़ी के पारा शिक्षक को महुआ बेचने से मिलते हैं 25-30 रुपये रसोई गैस का इस्तेमाल नहीं करते, क्योंकि भराने के पैसे नहीं मुखिया ने दया कर रद्द नहीं किया राशन कार्ड, नहीं तो अनाज पर भी आ जाती आफतChhayaRanchi : सुबह चार बजे…

दर्द-ए-पारा शिक्षकः सबसे ज्यादा शर्म तो राशन दुकानवाले को मुंह दिखाने में आती है, गैस तो तीन महीने…

नौकरी नाम की, लकड़ी और कोयला में खाना बनाने को मजबूर पारा शिक्षक, गैस सिलेंडर तक नहीं ले पा रहे पारा शिक्षिका सोनी अधिकारी तीन माह से गैस सिलेंडर नहीं ले पायीं क्या उज्ज्वला योजना इन पारा शिक्षकों के लिए यही थी माइक्रो…

मजबूर पारा टीचरः हाथ में चॉक व कलम की जगह ईंट व छड़ ढोते मिले मास्टर साहेब (देखें व जानें पारा टीचर…

सिस्टम की मार फरवरी माह से नहीं मिला मानदेयहाथों में चॉक और कलम नहीं, ईंट और छड़ ढोते दिखें पाराशिक्षक धनेश्वर, गर्मी की छुट्टियों में मजदूरी करने को विवशदुर्गा पूजा की छुट्टियों में घर रंग-रोगन का काम कर रहे थेधनेश्वर के दो बच्चे…