न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Tag

कॉरपोरेट

दूरगामी योजना बनाकर करें विकास कार्य, सरकार, एनजीओ और औद्योगिक घरानों के बीच समन्वय जरूरी: मरांडी

बोले बाबूलाल :औद्योगिक घरानों को सीएसआर के तहत राशि खर्च करने में ईमानदार पहल करनी चाहिए एसोचैम की ओर से राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गयाRanchi: समग्र विकास के लिए सरकारी और गैर सरकारी संस्थाओं के बीच समन्वय काफी जरूरी है.…

#LokSabha : वित्त राज्यमंत्री  ने कहा, #CorporateTax दरों में कमी से 1,45,000 करोड़ की राजस्व हानि  …

NewDelhi :   वित्त वर्ष 2019-20 के लिए कॉरपोरेट कर दरों में कमी के चलते 1,45,000 करोड़ रुपये की राजस्व हानि होने के आसार हैं. लोकसभा में सांसद नुसरत जहां रूही के प्रश्न के लिखित उत्तर में वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने यह जानकारी…

#MondayShareMarket : #Sensex 1300 अंक उछला, रुपया नौ पैसे कमजोर

Mumbai : अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए सरकार की घोषणाओं का असर सोमवार को भी शेयर बाजार में दिखा. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 1,300 अंक उछलकर 39,000 अंक के स्तर को छू गया. वहीं निफ्टी भी 11,500 अंक के स्तर तक पहुंच गया.बीएसई का 30…

कॉरपोरेट घरानों को लाभ पहुंचाने के लिए काम कर रही रघुवर सरकार की उलटी गिनती शुरूः बाबूलाल मरांडी

Dhanbad: झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने रघुवर सरकार पर बड़ा हमला बोला. श्री मरांडी ने झारखंड में बहुत जल्द होनेवाले विधानसभा को लेकर वर्तमान सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने यह दावा किया है की आगामी…

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त ने सरकारी खर्च से चुनाव कराने की वकालत की, कॉरपोरेट चंदे पर लगे पाबंदी

Hyderabad : आम चुनाव का खर्च सरकारी कोष से किया जाना चाहिए.  पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएस कृष्णमूर्ति ने मंगलवार को चुनावों के लिए सरकारी कोष से खर्च करने के लिए राष्ट्रीय चुनाव निधि बनाने की बात कही.  इस क्रम में  कहा कि निधि में चंदे के…

गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार, अंतरिम बजट पेश करेंगे

NewDelhi :  रेल मंत्री पीयूष गोयल को बुधवार को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है. कहा गया है कि इस बार का अंतरिम बजट एक फरवरी को गोयल ही पेश करेंगे. राष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि…

तीन सालों में कॉरपोरेट घरानों के 2.4 लाख करोड़ के बैड लोन राइट ऑफ  

NewDelhi : कॉरपोरेट घरानों का ठंडे बस्ते (राइट ऑफ) में डाला गया तीन सालों का बैड लोन किसानों की 10 साल की ऋण माफी से भी ज्यादा है. आरबीआई के आंकड़ों के अनुसार 10 सालों में अलग-अलग राज्यों ने किसानों के 2.21 लाख करोड़ रुपये के लगभग कर्ज माफ…

कॉरपोरेट घरानो ने भाजपा को 706 करोड़, कांग्रेस को 198 करोड़ का चंदा दिया

 NewDelhi : भाजपा का 92 प्रतिशत चंदा और कांग्रेस का 85 प्रतिशत चंदा कॉरपोरेट कंपनियों से आता है.  देश मे चुनाव और पारदर्शिता पर काम करने वाली संस्था एसोसिएशन फ़ॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) की रिपोर्ट के अनुसार 2012-13 से 2015-16 के बीच देश…

शिड्यूल्‍ड एरिया में नन ट्राइबल और कॉरपोरेट को खनन का हक देना गलत, तो अनुपालन की जिम्मेदारी…

Pravin kumarझारखंड में संविधान प्रदत्त अधिकारों की अनदेखी सत्‍ता शीर्ष के साथ ही ब्यूरोक्रेसी के द्वारा भी होता रहा है. 10 नवंबर को पांचवी अनुसूची पर सुभाष कश्यप के दिये गये व्याख्यान में कहा गया कि शिड्यूल्‍ड एरिया में नन…

कॉरपोरेट लूट में फंसा धरती आबा का देश

Srijan Kishoreहाल ही में बिहार-झारखंड के क्षेत्रीय न्यूज चैनल्स और अखबारों में यह खबर आई है कि बरसात के दिनों में वहां के गावं वालों ने तकरीबन नौ एकड़ जमीन में धान रोपा था, जिसे अडानी ग्रुप द्वारा बिना किसी प्रायः सूचना के जेसीबी मशीन से…