न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Tag

आकलन

नकली उत्पादों से देश को हर साल एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के नुकसान  का आकलन 

NewDelhi :  भारत में नकली उत्पादों से देश को हर साल एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान होने की खबर है.  प्रमाणन उद्योग संगठन एएसपीए का यह कहना है.  जान लें कि संगठन एएसपीए के 60 सदस्य हैं.  संगठन  का कहना है कि नकली उत्पादों  के बारे में…

एग्जिट पोल 23 को आने वाले एग्जेक्ट पोल के कितने करीब

Faisal Anuragएग्जिट पोल 23 को आने वाले एग्जेक्ट नतीजों के कितने करीब हैं?  यह प्रश्न इसलिए जरूरी है कि भारत में एग्जिट पोल अपनी साख को चुके हैं और गलत साबित होने के बाद भी न तो खेद व्यक्त करते हैं और न ही प्रक्रियागत भूल को स्वीकार करते…

लोकसभा चुनाव झारखंड : राजनीतिक दलों के चुनाव घोषणा पत्र में जन मुद्दों को कितना मिला स्थान,  एक आकलन

Pravin kumar/ chhayaRanchi : पिछले पांच सालों में झारखंड के सामाजिक आर्थिक पटल पर जिन सवालों ने हलचल पैदा की है उन पर विभिन्न राजनीतिक दलों ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में क्या कहा है यह जानना बेहद दिलचस्प है. झारखंड के पिछले पांच साल न केवल…

मुरी कॉस्टिक पौंड हादसाः हिंडाल्को इंडस्ट्रीज ने बंद किया प्लांट से उत्पादन

Ranchi:  झारखंड के मुरी स्थित हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड में एल्यूमिना उत्पादन बंद कर दिया गया है. यह निर्णय कंपनी प्रबंधन ने मंगलवार को कॉस्टिक पोंड हादसे के बाद लिया है.मंगलवार को कॉस्टिक पोंड की  दीवार ढह गयी थी, जिसकी वजह से मलबा…

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री का दावा, भारत के दो मिग विमान मार गिराये: वार्ता की पेशकश

ISLAMABAD: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को दावा किया कि भारत के दो मिग लड़ाकू विमानों ने नियंत्रण रेखा पार की और उन्हें मार गिराया गया. इसके साथ ही उन्होंने परमाणु हथियारों से संपन्न दोनों देशों के बीच तनाव कम करने और…

पांचजन्य का आकलन : मोदी ब्रांड की चमक बरकरार, हार की वजह दूसरी, भाजपा अपने जनाधार को समझे

 NewDelhi : आरएसएस के मुखपत्र पांचजन्य में हिंदी बेल्ट में भाजपा की हार पर विमर्श किया गया है. भाजपा की हार के बाद  मीडिया, सोशल मीडिया आदि भाजपा पर जिस प्रकार से हमलावर हैं, उस पर चर्चा की गयी है. पांचजन्य के अनुसार जैसे चुनाव परिणाम आये…

10 सालों में बाढ़ से 16 हजार मौतें और 47000 करोड़ की बर्बादी की आशंका :एनडीएमए

NewDelhi : देश में बारिश और बाढ़ के खतरे लगातार बढ़ते जा रहे हैं. दक्षिण भारत का बड़ा हिस्सा खास कर केरल इस मानसून में प्राकृतिक आपदा की मार झेल रहा है.  केरल और कर्नाटक में 94 साल की सबसे भयानक बाढ़ की तबाही से 350 से ज़्यादा लोग अपनी जान…

you're currently offline