JamshedpurJharkhand

MGM में सफाईकर्मी की कोरोना से मौत, मुआवजे को लेकर अड़े साथी, काम किया ठप

Jamshedpur: एमजीएम मेडिकल कॉलेज जमशेदपुर के सफाईकर्मी की कोरोना संक्रमण से सोमवार को मौत हो गयी. यह सफाईकर्मी आउटसोर्स एजेंसी के जरिये कार्यरत था. 29 वर्षीय सफाईकर्मी काम करते हुए संक्रमित हुआ था. जिसके बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी. यह सूचना मिलते ही अस्पताल में कार्यरत साथी सफाईकर्मी मुआवजे को लेकर अड़ गये हैं.

Jharkhand Rai

मंगलवार को मांग करते हुए सफाई कर्मियों ने काम बंद कर दिया है. एमजीएम अस्पताल में कोरोना से यह दूसरे सफाई कर्मी की मौत है. सफाई कर्मियों ने कहा कि इससे पूर्व भी एक सफाईकर्मी का निधन हो चुका है.

तब भी बीमा का लाभ नहीं मिला था. सफाई कर्मियों का कहना है कि केंद्र सरकार ने जब 50 लाख बीमा देने की घोषणा की है. तो फिर उन्हें क्यों नहीं मिल रहा है. क्या वे लोग इंसान नहीं हैं. उनका घर परिवार नहीं है.

इसे भी पढ़ें – शिबू सोरेन होम आइसोलेशन से मेदांता में शिफ्ट, हेमंत ने परिवार समेत दिया सैंपल

Samford

मरीजों का कचरा साफ करते हैं पर हमारी फिक्र किसी को नहीं

सफाई कर्मियों ने बताया कि हम सभी सफाईकर्मी अपनी जान की बाजी लगाकर मरीजों के कचरे को साफ करते हैं. लेकिन हमारी फिक्र किसी को भी नहीं है. सरकार गरीबों की बात करती है तो क्या हमलोग गरीब नहीं हैं.

कर्मचारियों ने प्रबंधन पर आरोप लगाया है कि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च द्वारा जारी गाइडलाइन का भी पालन यहां नहीं हो रहा है. कई सफाईकर्मी मृतक के संपर्क में आये हैं, लेकिन उनकी अभी तक जांच भी नहीं करायी गयी है.

सफाईकर्मी ने बंद किया काम, अस्पताल में पसर गयी गंदगी

सफाईकर्मी अपने साथी के मौत की सूचना के बाद घबराये हुए हैं. वे आज साफ सफाई भी नहीं किये हैं. उन्होंने अपना काम बंद कर रखा है. सुबह से सफाई नहीं होने की वजह से पूरे अस्पताल में गंदगी पसरा हुआ है. सफाई कर्मियों का कहना है कि मृतक को उसका हक मिलना चाहिए. साथ ही सफाई नहीं होने से अस्पताल में इलाजरत मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें –  शिबू सोरेन होम आइसोलेशन से मेदांता में शिफ्ट, हेमंत ने परिवार समेत दिया सैंपल

Advertisement

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: