National

पाकिस्तान आतंक फैलाने के साथ उसे नकारने में भी माहिरः सुषमा स्वराज

United Nations: भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 73वें सत्र में शनिवार को पाकिस्तान को जम कर खरी-खोटी सुनायी. सुषमा स्वराज ने कहा कि पाक ऐसा पड़ोसी देश है जिसे आतंकवाद फैलाने के साथ-साथ अपने किये को नकारने में भी महारथ हासिल है. विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों की सुरक्षित पनाहगाह है. 26/11 का मास्टरमाइंड अबतक खुला घूम रहा है. उन्होंने कहा कि क्या संयुक्त राष्ट्र संघ को पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद इतने वर्षों के बाद भी नहीं दिखाई दिया. ये भारत ही है जो रोजाना पड़ोसी द्वारा भेजे गये आतंकियों का शिकार बन रहा है.

इसे भी पढ़ें: पेट्रोलियम पदार्थ की कीमत में बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

आतंकवाद दुनिया की सबसे बड़ी परेशानी

ram janam hospital
Catalyst IAS

सुषमा ने जलवायु परिवर्तन और आतंकवाद को दुनिया के सामने खड़ी सबसे बड़ी परेशानियां बताया. पाकिस्तान द्वारा बातचीत की पेशकश पर सुषमा ने कहा कि भारत हमेशा बातचीत से मुद्दों को सुलझाने का पैरोकार रहा है, लेकिन पाकिस्तान हमेशा धोखा देता है. उन्होंने कहा कि हम मानते हैं कि बातचीत से जटिल से जटिल मुद्दे सुलझाए जा सकते हैं, पाक के साथ वार्ताओं के दौर चले हैं, लेकिन हर बार पाकिस्तान की हरकतों के चलते बातचीत रुक गयी.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें: गैरमजरूआ जमीन को वैध बनाने का चल रहा खेल, राजधानी के पुंदाग में खाता संख्या 383 की काटी जा रही लगान…

हमने बातचीत का रास्ता अपनाया था

सुषमा स्वराज ने कहा कि पहले की सरकारों की तरह मोदी सरकार ने भी बातचीत का रास्ता अपनाया था, इसलिए पीएम मोदी ने अपने शपथ ग्रहण में सार्क देशों के प्रमुखों को बुलाया था. सुषमा ने कहा कि वह खुद भी इस्लामाबाद गईं थी, लेकिन उसके तुरंत बाद ही पठानकोट हमला हुआ. पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री इमारन खान द्वारा भेजे गये बातचीत के प्रस्ताव पर उन्होंने कहा कि भारत ने वार्ता के लिए हामी भर दी थी, लेकिन उसी वक्त 3 भारतीय सैनिकों का अपहरण करके उनमें से एक को मार दिया था.

पाकिस्तान में खुले घूम रहे 26/11 हमले के मास्टरमाइंड का जिक्र करते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका पर हुए हमले (9/11) का मास्टरमाइंड (लादेन) तो मारा गया, लेकिन सईद अबतक खुला घूम रहा है, रैलियां करता है, चुनाव लड़ता है और भारत को धमकियां भी देता है.

सुषमा ने यह भी कहा कि पाकिस्तान अपने आपको कितना भी बचाए लेकिन दुनिया ने उसका चेहरा पहचान लिया है. यहां उन्होंने पाकिस्तान के फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स की ग्रे लिस्ट यानी संदिग्धों वाली सूची में शामिल होने का जिक्र किया. विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान भारत पर मानवाधिकार उल्लंघन का आरोप लगाता है, लेकिन खुद मारने वालों के साथ खड़े होता है और मारे जाने वालों पर चुप्पी साधता है.

पाकिस्तान और अमेरिका के रिश्तों का जिक्र करते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान ने हमेशा कहा कि लादेन उसके यहां नहीं है। अमेरिका भी पूरी दुनिया में उसे खोजता रहा, लेकिन बाद में पता चला कि खुद को अमेरिका का दोस्त बतानेवाले पाकिस्तान ने ही उसे पनाह दी हुई थी. हालांकि, अमेरिका ने अपना बदला ले लिया, लेकिन पाकिस्तान की हिमाकत देखिए कि सब सच दुनिया के सामने आने के बाद भी ऐसे दिखाता है जैसे उसने कोई गुनाह किया ही नहीं हो.

Related Articles

Back to top button