न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

5 साल की एक्‍सप्रेस वारंटी के साथ डी-लिंक दे रहा है सर्विलांस गैजेट, बेहतर सर्विस के लिए कंपनी ने दी ट्रेनिंग

953

Ranchi : घर हो या दफ्तर सर्विलांस और सुरक्षा की बात कोई सोचता है तो सबसे पहले सीसीटीवी कैमरा के बारे में ख्याल आता है. इससे लोग दूर रहकर भी अपने घर और दफ्तर से कनेक्‍ट रहते हैं और निगरानी कर सकते हैं. लेकिन अक्‍सर लोग सीसीटीवी कैमरेडीवीआर से जुड़े कई एडवांस फीचर्स और लेटेस्‍ट टेक्‍नोलॉजी के बारे में नहीं जानते हैं और कहीं न कहीं सुरक्षा को लेकर चूक कर बैठते हैं. सर्विलांस से जुड़ी इसी तरह की जानकारी और ट्रेनिंग के लिए डी-लिंक की ओर से रांची में एक वर्कशॉप आयोजित किया गया. इस वर्कशॉप में रांची सहित दूसरे शहर के सीसीटीवी और सर्विलांस से जुड़ी एजेंसियों और उनके प्रतिनिधियों को ट्रेनिंग दिया गया.

इसे भी पढ़ें – सरकारी शराब सिंडिकेट पर मुख्य सचिव बोले, कैबिनेट के फैसले को कैबिनेट ही बदल सकता है, उत्पाद विभाग में क्या हो रहा है पूछेंगे

लोग कई अनऑर्गलाइज्‍स लोगों से सीसीटीवी इंस्‍टॉल करा लेते हैं

डीलिंक मुंबई के टेक्‍निकल ऑफिसर निलेश रोहतक ने बताया कि आजकल लोग कई अनऑर्गलाइज्‍स लोगों से सीसीटीवी इंस्‍टॉल करा लेते हैं. लेकिन लोगों को सीसीटीवी के फीचर्स की जानकारी नहीं होती हैजिसकी वजह से लोगों को उसका पूरा फायदा नहीं होता है. अब रांची में एजेंसियों को ट्रेनिंग मिलने के बाद डी-लिंक के सीसीटीवी कैमरे और डीवीआर लगाने वाले ग्राहकों को सभी तरह के फीचर्स और सुविधाओं को फायदा मिलेगा.

silk_park

इसे भी पढ़ें – गोड्डा मॉब लिंचिंग : सांसद निशिकांत ने कहा प्रशासन ने सही किया या गलत पता नहीं, लेकिन केस लड़ने के लिए आरोपियों की करेंगे मदद

उन्‍होंने बताया कि डी-लिंक मार्केट में बहुत ही भरोसेमंद ब्रांड है. डी-लिंक का सीसीटीवी कैमरा और डीवीआर इस्‍तेमाल करने वाले ग्राहकों को सबसे बढिया 5 साल की वारंटी मिल रहा है. साथ ही साथ एक्‍सप्रेस वारंटी सर्विस की सुविधा भी लोगों को मि रही है. इसके तहत डायरेक्‍ट कुरियर के पिक एंड ड्रॉप सर्विस हैं. इसमें यह पूरा ध्‍यान रखा जा रहा है कि सर्विस में ग्राहकों को किसी तरह की परेशानी न हो.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: