Dhanbad

पुलिस दबिश में आरोपी राजेन्द्र का आत्मसमर्पण, सुलह पर जमानत

Dhanbad: जिले के कुख्यात बदमाशों में शुमार रघुकुल समर्थक राजेंद्र सिंह ने पुलिस की दबिश के बाद सोमवार को धनबाद न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया. हालांकि उसे सुलह-समझौते के तहत जमानत मिल गई.

सरायढेला में आतंक के नाम से चर्चित रघुकुल समर्थक राजेन्द्र सिंह ने 30 मई को चाणक्य नगर निवासी व्यवसायी उमेश कुमार गोयल और उनके परिजनों को पीटा था.

इसे भी पढ़ेंः जमीन दलाल की फॉर्चूनर, पूर्व ट्रैफिक SP संजय रंजन, सिमडेगा SP और पूर्व DGP डीके पांडेय का क्या है कनेक्शन !

ram janam hospital
Catalyst IAS

इस मामले में गोयल ने सरायढेला थाना में राजेंद्र सिंह और वासुदेव सिंह पर मारपीट, छेड़खानी और छिनतई करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई है. साथ ही सुरक्षा की गुहार लगाई है.

The Royal’s
Sanjeevani

शिकायतकर्ता के साथ समझौते पर मिली बेल

शिकायत में कहा गया है कि गोयल के घर के सामने बिल्डिंग मैटेरियल गिराया गया था जिसे उन्होंने हटाने की बात कही थी. इसके बाद राजेंद्र सिंह और वासुदेव सिंह अचानक कुछ लोगों के साथ गोयल के घर पहुंचकर पिटाई शुरू कर दी.

गोयल को बचाने के लिए आए उनके बेटे, पत्नी और बेटी के साथ भी मारपीट की गयी. इस मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस ने दबाव बढ़ा दिया था. इसके बाद राजेंद्र सिंह ने गोयल के साथ सुलह-समझौता किया.

फिर सोमवार को धनबाद न्यायालय में आत्मसमर्पण किया. शिकायकर्ता के साथ समझौते का आवेदन दिए जाने के बाद न्यायालय ने जमानत दे दी.

बता दें कि राजेन्द्र सिंह पर सीसीए भी लग चुका है. बिग बाजार में रंगदारी के लिए हंगामा के बाद काफी दिनों तक वह जेल में रहा था.

इसे भी पढ़ेंःममता बनर्जी ने पहले बीजेपी ऑफिस का तुड़वाया ताला, खुद पेंट कर लिखा टीएमसी का नाम

Related Articles

Back to top button