Crime NewsNational

स्मृति ईरानी के करीबी सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या, परिवार से मिलने पहुंची

Amethi (UP) : अमेठी से नवनिर्वाचित सांसद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के करीबी माने जाने वाले बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी. इस घटना की वजह से शोक में डूबे परिवार से स्मृति ईरानी मिलने पहुंची.

अपर पुलिस अधीक्षक दया राम ने रविवार को बताया कि बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान स्थानीय भाजपा नेता सुरेंद्र सिंह को शनिवार रात करीब 11.30 बजे अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी. सुरेंद्र रात को अपने घर के बाहर सो रहे थे, इसी दौरान अज्ञात लोगों ने उन पर फायरिंग कर दी.

जिससे की उन्हें गंभीर हालत में इलाज के लिए लखनऊ भेजा गया, जहां उनकी मौत हो गयी. उन्होंने बताया कि इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. फिलहाल घटना की जांच जारी है.

इसे भी पढ़ें- दस सालों में 44 प्रतिशत बढ़ी करोड़पति व आपराधिक पृष्ठभूमि वाले सांसदों की संख्या

advt

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लग रहा आरोप, उच्च स्तरीय जांच की मांग

इधर सुरेंद्र सिंह की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. उनके बेटे अभय ने पिता की हत्या को लेकर आरोप लगाया है कि इलाके के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उसके पिता की हत्या कराई है. घटना के बारे में पिता ने बताया कि मेरे पिता घर के बाहर थे और हम सभी लोग घर के अंदर थे. इसी बीच अचानक बाहर से गोली चलने की आवाज आई.

गोली की आवाज सुनकर हम सभी बाहर दौड़कर आए तो देखा कि पिताजी के सिर पर गोली लगी थी और काफी खून बह रहा था. आनन-फानन में हम उन्हें जिला अस्पताल लेकर गए जहां से डॉक्टरों ने उन्हें ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया. लेकिन लखनऊ ले जाते वक्त रास्ते में ही उनकी मौत हो गयी.

सिंह की हत्या पर भाजपा के अमेठी लोक सभा के संयोजक राजेश अग्रहरि ने कहा कि कांग्रेस की हताशा और घटना के हालात को देखते हुए मामले की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए. राजेश ने कहा कि चुनाव के बाद से कांग्रेस में हताशा है इसलिए घटना की गहन जांच हो और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाए.

इसे भी पढ़ें- बिहार में सबसे अधिक वोटरों ने दबाया नोटा, जानें कहां कितने लोगों ने चुना नोटा का विकल्प

हर पहलू पर जांच कर रही पुलिस

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इस घटना के राजनीतिक हत्या होने से इंकार नहीं किया जा सकता. सभी पहलू पर जांच हो रही है. सिंह पूर्व प्रधान रहे हैं लिहाजा यह पुरानी रंजिश का मामला भी हो सकता है. लोकसभा चुनाव के दौरान जूता वितरण प्रकरण में सुरेंद्र सिंह काफी चर्चा में रहे थे. उन्हें स्मृति ईरानी का करीबी माना जाता था.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने स्मृति ईरानी पर बरौलिया गांव के लोगों को जूते बांटने का आरोप लगाते हुए इसे अमेठी के लोगों का अपमान बताया था. बरौलिया गांव को पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया था.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: