न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रशांत भूषण से सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कॉलेजियम के कारण जजों की नियुक्ति में देरी , सरकार के कारण नहीं  

सीजेआई रंजन गोगोई और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने कहा,  जजों की नियुक्ति में देरी हमारी तरफ से है. यह देरी नियुक्ति के लिए जजों के नाम तय करने वाले कॉलेजियम की ओर से है.

19

NewDelhi : सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम के कारण जजों की नियुक्ति में देर होती है. देर का कारण सरकार नहीं है. सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को यह बात कही. बता दें  कि सुप्रीम कोर्ट ने यह कहते हुए कालेजियम की सिफारिश पर सरकार को जल्द फैसला करने का निर्देश देने की मांग वाली याचिका पर फिलहाल कोई आदेश देने से इनकार कर दिया. इस क्रम में सीजेआई रंजन गोगोई और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने कहा,  जजों की नियुक्ति में देरी हमारी तरफ से है. यह देरी नियुक्ति के लिए जजों के नाम तय करने वाले कॉलेजियम की ओर से है. कहा कि नियुक्तियां हो रही हैं.  पीठ ने याचिकाकर्ता संगठन की ओर से पेश वकील प्रशांत भूषण से कहा, सरकार के पास 27 सिफारिश लंबित हैं, जबकि कॉलेजियम के समक्ष लंबित सिफारिशों की संख्या करीब 70 है.

इस पर प्रशांत भूषण ने कहा कि मेरी जानकारी के अनुसार सरकार के पास कई ऐसी सिफारिशें लंबित हैं, जिन पर कॉलेजियम ने दोबारा विचार करने के लिए कहा है.  इसके बाद पीठ ने याचिका पर छह हफ्ते के बाद सुनवाई करने का निर्णय लिया;  याचिका दाखिल करने वाले एनजीओ सीपीआईएल के अनुसार सिफारिशें छह हफ्ते से अधिक समय से लंबित हैं. कहा कि  समय पर जजों की नियुक्ति होने पर अदालत सुचारु रूप से काम कर सकेगी.

इसे भी पढ़ें  :  राहुल गांधी 10 किमी की ट्रैकिंग कर तिरुमला पहाड़ी पहुंचे, भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना की

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: