Lead NewsNationalNEWS

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, लॉकडाउन पर विचार करें केंद्र व राज्य

आक्सीजन का बफर स्टाक तैयार करने का केंद्र को निर्देश

New Delhi: कोरोना मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों से लॉकडाउन पर विचार करने की बात कही है. कोर्ट ने कहा है कि हम गंभीर रूप से केंद्र और राज्य सरकारों से सामूहिक समारोहों और सुपर स्प्रेडर घटनाओं पर प्रतिबंध लगाने पर विचार करने का आग्रह करेंगे. साथ ही कहा है कि यदि इस तरह का कदम उठाया जाता है तो इससे पूर्व विशेष समुदाय के लिये पर्याप्त व्यवस्था कर लेना चाहिये,ताकि उन्हें परेशानी का सामना नहीं करना पड़े. इतना ही नहीं सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिया कि 3 मई की मध्यरात्रि से पूर्व दिल्ली में आक्सीजन की आपूर्ति सुचारु की जाये.

 

advt

शीर्ष कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा है कि वह आपात स्थिति से निपटने के लिए राज्यों के साथ मिलकर आक्सीजन का बफर स्टाक तैयार करे और इस आपात स्टाक को अलग अलग जगह रखा जाए. कोर्ट ने केंद्र को चार दिन के भीतर यह बफर स्टाक तैयार करने का निर्देश दिया है और कहा है कि इस बफर स्टाक में रोजाना आक्सीजन की उपलब्धता का स्तर बनाए रखा जाए.

 

मरीजों के लिये तैयार हो राष्ट्रीय नीति

कोर्ट ने केंद्र सरकार को निर्देश दिया है कि वह मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने के बारे में दो सप्ताह के भीतर एक राष्ट्रीय नीति तैयार करे. सभी राज्य सरकारें उस नीति का पालन करेंगी. कोर्ट ने कहा है कि जब तक केंद्र सरकार इस बारे में राष्ट्रीय नीति बनाती है, तब तक किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश में किसी भी मरीज को स्थानीय निवास या पहचान पत्र के अभाव में अस्पताल में भर्ती करने या जरूरी दवाएं देने से मना नहीं किया जाएगा. इसमें आक्सीजन की उपलब्धता, वैक्सीन की उपलब्धता और कीमत, जरूरी दवाओं की वहन योग्य कीमत भी शामिल है. कोर्ट ने आदेश में उठाए गए अन्य मुद्दों पर भी केंद्र से अगली सुनवाई तक जवाब मांगा है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: