न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दोहरी नागरिकता मामले में राहुल को राहतः सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

याचिकाकर्ता ने ब्रिटेन के नागरिक होने का आरोप लगाते हुए राहुल के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की थी.

978

New Delhi: सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बड़ी राहत दी है. दोहरी नागरिकता मामले में सुप्रीम कोर्ट ने उनके खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया है.

mi banner add

गौरतलब है कि याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में आरोप लगाया था कि राहुल गांधी के पास ब्रिटेन की भी नागरिकता है.ऐसे में उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की गयी थी.

इसे भी पढ़ेंःझारखंडः जब आती है बड़े नेता या अधिकारी की बात तो सरकार जांच तक की अनुमति नहीं देती

खारिज हुई याचिका

मामले पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने याचिकाकर्ता से पूछा कि आखिर आप कौन हैं? इस पर याचिकाकर्ता ने कहा कि वो भारत के नागरिक हैं. साथ ही सामाजिक कार्य और राजनीति करते हैं.

वहीं राहुल गांधी ब्रिटिश नागरिकता की जानकारी पर याचिकाकर्ता ने कहा कि ब्रिटेन की एक कंपनी के दस्तावेज से खुलासा हुआ कि राहुल गांधी ब्रिटिश पासपोर्ट धारक हैं.

याचिकाकर्ता ने आगे कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सांसद हैं और पीएम बनना चाहते हैं. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- कौन पीएम नहीं बनना चाहता है? क्या आप ऐसा अवसर ठुकरा देंगे? साथ ही शीर्ष अदालत ने याचिकाकर्ता से कहा कि सिर्फ किसी विदेशी कंपनी के दस्तावेज लाकर आप ऐसा दावा कर रहे हैं, तो सही नहीं हैं. लिहाजा इस याचिका को खारिज किया जाता है.

इसे भी पढ़ेंःआधी गर्मी बीतने के बाद जागा विभाग, अब जिलों में खराब ट्यूबवेल बदलने के लिए निकाला जा रहा टेंडर

गृह मंत्रालय ने जारी किया है नोटिस

गौरतलब है कि इससे पहले भारतीय जनता पार्टी ने राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाते हुए ब्रिटेन का नागरिक होने का आरोप लगाया था. इस मामले को लेकर गृह मंत्रालय ने राहुल गांधी को नोटिस भी जारी कर जवाब मांगा है.

गृह मंत्रालय ने राहुल गांधी से पूछा था, ‘आपकी ब्रिटिश नागरिकता को लेकर शिकायत की गई है. इस पर आप अपना रुख स्पष्ट करें और तथ्य सामने रखें.’

हालांकि, कांग्रेस ने इसके में कहा था कि राहुल गांधी जन्म से भारतीय हैं और ये बात पूरी दुनिया जानती है. वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने राहुल गांधी की नागरिकता के विवाद को बकवास बताया था. जबकि, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इसे रुटीन प्रक्रिया बताया है.

इसे भी पढ़ेंःशर्मनाकः देवघर में नाबालिग की सामूहिक दुष्कर्म के बाद पत्थर से कूचकर हत्या

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: