GiridihJharkhand

अंधविश्वास: कोरोना के भय से ‘भौजी साड़ी प्रथा’ के जाल में फंस रहीं महिलाएं

विज्ञापन
  • विरोध में निकली जागरूकता रैली

Giridih:  कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के बीच अंधविश्वास के कारण गिरिडीह जिले में एक कुप्रथा तेजी से पांव पसार रही है. ‘भौजी साड़ी प्रथा’ नाम के इस चलन से समाज के पढ़े-लिखे वर्ग को चिंता में डाल दिया है.

अंधविश्वास के इस खेल को रोकने के लिए डुमरी प्रखंड के सिमराडीह पंचायत में जागरूकता रैली निकाली गयी जो मराडीह गांव से निकल कर आइबीपी और धनहारा होते हुए जीटी रोड हेटटोला तक गयी.

रैली में शामिल नवयुवकों ने ‘भौजी साड़ी प्रथा’ को घोर अंधविश्वास और व्यर्थ की प्रथा बताते हुए इसको बंद कराने का निर्णय लिया.

advt

इसे भी पढ़ें – पलामू: फर्जी डाक्टर भेजा गया जेल, प्रशिक्षु आइएएस ने सात क्लिनिकों में की थी जांच

क्या है भौजी साड़ी प्रथा

क्षेत्र में यह बात प्रचलित हो गयी है कि ननद अपनी भाभी को साड़ी खरीद कर दे. इसके बाद भाभी उस साड़ी को पहन कर पूजा अर्चना करे. इससे परिवार पर किसी तरह का दुख नहीं आयेगा. कोरोना से निजात पाने के लिए भी यह उपाय करने की सलाह महिलाओं को दी जा रही है.

ऐसे में ग्रामीण इलाकों में ननदें अपनी भाभियों को साड़ी भेंट कर रही हैं. हालत यह है कि यदि किसी के पास पैसे नहीं है तो वह उधार तक करके इसे निभा रहा है.

इसे भी पढ़ें –सिंडिकेट ने माइनोरिटी कॉलेज के शिक्षकों को भी पेंशन देने को मंजूरी दी 

adv

प्रथा को खत्म करने का संकल्प लिया

इस प्रथा के विरोध में निकाली गयी रैली को संबोधित करते हुए कुछ वक्ताओं ने कहा कि आज पूरी दुनिया कोरोना वायरस की महामारी से त्रस्त है. हर कोई इससे जल्द छुटकारा चाहता है और फिर अपनी सामान्य जिंदगी जीना चाहता है. वैक्सीन बनाने का काम तो कई देशों में चल रहा है. इसी बीच अंधविश्वास से भरी बातें भी रफ्तार पकड़ लेती हैं. हमें इस भौजी साड़ी प्रथा को रोकने के लिए इसका पुरजोर विरोध करना है.

मौके परडुमरी पंचायत के मुखिया फलजीत महतो, देवरतन पाण्डेय, प्रेमचंद  महतो, प्रीतम महतो, बैजनाथ अकेला, साधु महतो, नवीन पाण्डेय, राहुल पाण्डेय, नागेश्वर महतो, राहुल महतो, कुलदीप पांडे, नवनीत पांडे, प्रदीप पांडे, निरंजन पांडे, साथ ही मीडिया प्रभारी प्रवीण कुमार पांडे शामिल थे.

इसे भी पढ़ें –आइआइटी धनबाद में बीटेक की 173 सीटें बढ़ी, इस साल 1125 सीटों में होगा एडमिशन

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button