JharkhandPalamu

पलामू: सड़क दुर्घटनाओं में कई मौत के बाद अब सुसाइड की घटनाएं, ज्वेलरी व्यवसायी ने लगाया मौत को गले

Palamu:  सड़क दुर्घटनाओं में मौतों के बाद अब सुसाइड की घटनाओं में अचानक से वृद्धि हो गयी है. पलामू प्रमंडल के पलामू और गढ़वा जिले में पारिवारिक विवाद के बाद पिछले चार दिनों में एक पुरुष और दो महिलाओं द्वारा आत्मत्या की गयी है.

अभी इन मौतों की चर्चा ही हो रही थी कि लातेहार के बरवाडीह में ज्वेलरी व्यवसायी ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली.

व्यवसायी द्वारा सुसाइड नोट भी छोड़ा गया है. पुलिस द्वारा शव और सुसाइट नोट को कब्जे में लेने के बाद छानबीन तेज कर दी गयी है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ेंः बड़ा तालाब के किनारे कंक्रीट का इस्तेमाल कम से कम हो : अजय कुमार सिंह

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

कमरे में फंदे पर लटका मिला व्यवसायी 

बरवाडीह थाना क्षेत्र के पुरानी बस्ती में मंगलवार को उस समय सनसनी फैल गयी, जब राजा मेदनी राय इंटर कॉलेज में कार्यरत सुदामा सोनी के पुत्र अजीत कुमार सोनी का शव उनके कमरे में झूलता हुआ मिला.

यह खबर आग की तरफ फैल गयी. स्थानीय लोगों ने उनके घर पहुंच कर शव को फंदे से उतारा और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाने का प्रयास किया, मगर तब तक अमित की मौत हो चुकी थी.

इसे भी पढ़ेंः रांची यूनिवर्सिटी ने तीन संस्थानों के विभिन्न कोर्सों की अस्थाई संबद्धता बढ़ायी

देर सुबह तक सोया रहा अजीत  

जानकारी के अनुसार अजीत सुबह तक अपने भांजे के साथ अपने कमरे में सोया हुआ था. सुबह उसका भांजा उठकर बाहर खेलने आ गया, जिसके कुछ देर के बाद फिर अजीत ने अपना कमरा बंद कर सोने लगा. कुछ देर बाद जब दरवाजा खोला गया तो फंदे से वह लटकता हुआ मिला.

घटनास्थल से अजीत के हाथों लिखा एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें अजीत ने अपनी आत्महत्या की जवाबदेही खुद पर लेते हुए किसी और को दोषी नहीं बनाया है.

पिता के व्यवसाय में बंटाता था हाथ

घटना के बाद पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. आसपास के लोगों की माने तो अजीत  हंसमुख लड़का था. हर सामाजिक कार्य और लोगों की मदद करने में आगे रहता था.

साथ ही साथ अपने दादा और पिता का व्यवसाय ज्वेलरी दुकान का भी संचालन बरवाडीह बाजार में करता था. वहीं बरवाडीह के प्राचीन पहाड़ी मंदिर में अपनी कार सेवा के साथ योग के प्रति लोगों को जागरूक करने का भी काम करता था.

पोस्टमार्टम के लिए शव भेजा गया लातेहार  

घटना की सूचना मिलते ही बरवाडीह सब इंस्पेक्टर देवानंद और सहायक अवर निरीक्षक देवचंद्र हांसदा ने पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए लातेहार भेज दिया.

पुलिस आत्महत्या की जांच करने में जुट गयी है. पोस्टमार्टम के बाद देर शाम मेन रोड स्थित शवदाहगृह में उसका दाह संस्कार किया गया.

इसे भी पढ़ेंः हज़ारीबागः अवैध रूप से संचालित क्रशर में एसडीओ ने मारा छापा, एक गिरफ्तार, कई क्रशर सील

Related Articles

Back to top button