न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अफगानिस्तान में सिखों और हिंदुओं पर आत्मघाती हमला, 12 की मौत , कई घायल

560

Kabul  :  अफगानिस्तान के पूर्वी शहर जलालाबाद में रविवार एक जुलाई को सिखों और हिंदुओं को निशाना बनाकर  आत्मघाती हमला किये जाने की खबर है.  रॉयटर्स की खबर के अनुसार  जलालाबाद शहर में हुए आत्मघाती बम विस्फोट में 12 लोगों की मौत हुई है, जबकि 20 से अधिक लोग घायल हुए हैं.  चश्मदीदों और सरकारी अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट के बाद हर जगह धुआं ही छा गया और अफरा-तफरी के मारे लोग इधर-उधर भागने लगे थे. इस घटना  के संबंध में नांगरहार प्रांत के पुलिस चीफ ने जानकारी दी कि इस हमले में पांच लोग घायल भी हुए हैं.  क‍हा कि इन लोगों पर हमला उस समय किया गया, जब वे गवर्नर कम्पाउंड की  ओर जा रहे थे.  बता दें  कि  इलाके का दौरा कर रहे राष्ट्रपति अशरफ गनी से मिलने वाले थे.  अब तक इस हमले की जिम्मेदारी किसी ने नहीं ली है, लेकिन इस इलाके में तालिबान और इस्लामिक स्टेट के आतंकी काफी सक्रिय हैं. अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू और सिख दशकों से अत्याचार और भेदभाव झेल रहे हैं.  आज यहां इनकी संख्या करीब 1000 रह गयी है.  इसके पूर्व  भी इस्लामिक स्टेट उन्हें अपना निशाना बना चुका है.  गर्वनर के प्रवक्ता अतुल्लाह खोग्यानी ने बताया कि विस्फोट के कारण मुखाबेरात चौक पर स्थित दुकानों और इमारतों को नुकसान पहुंचा.

 इसे भी पढ़ें- भारतीय सेना में शामिल होगी परमाणु क्षमता से लैस अग्नि-5  इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल 

राष्ट्रपति अशरफ घनी ने कुछ घंटों पहले यहां एक अस्पताल का शिलान्यास किया था  

राष्ट्रपति अशरफ घनी ने कुछ घंटों पहले यहीं पर आकर एक अस्पताल का शिलान्यास किया था.  पीड़ितों में सबसे अधिक सिख शामिल हैं. अधिकारियों का कहना है कि राष्ट्रपति के दौरे को लेकर शहर में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद की गयी थी.  सड़कें ब्लॉक थीं.  रूट डायवर्ट किये गये थे.  अगर उस वक्त राष्ट्रपति का दौरा न होता, तो शायद मरने वालों और घायलों की संख्या अधिक हो सकती थी. स्थानीय मीडिया के  अनुसार  आत्मघाती बम विस्फोट के  तुरंत बाद घटनास्थल पर सुरक्षाबलों को  भेजा गया.  उसके पीछे-पीछे एंबुलेंस आयी  और  घायलों को नजदीक के अस्पताल ले जाया गया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

silk_park

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: