न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुशासन बाबू की सरकार में सवालों के घेरे में महिला सुरक्षा ! मोतिहारी में छेड़खानी, वीडियो वायरल

2,174

Patna:  हाल के दिनों में एक रिपोर्ट में ये बात कही गयी कि भारत महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं. बिहार में इनदिनों जो कुछ भी हो रहा है, वो बात की तस्दीक करता है कि आज की तारीख में सूबे में लड़कियां सुरक्षित नहीं है. कैमूर के बाद अब मोतिहारी का एक वीडियो वायरल हुआ है, जहां सात लोग एक-लड़की और उसके दोस्त को अमानवीयता करते नजर आये.वीडियो में लड़की और उसके दोस्त के साथ गाली-गलौज की गई. इतना ही नहीं इन लोगों ने लड़की के पिता से वीडियो के बदले पचास हजार रुपये की मांग की. और पैसा नहीं देने पर वीडियो को वायरल करने की धमकी दी.

इसे भी पढ़ेंःलालू यादव को राहतः जमानत अवधि 6 हफ्ते के लिए बढ़ी

सात लड़कों ने की अभद्रता

मोतिहारी के इस वीडियो में आ रही आवाजों से पता चल रहा है कि छेड़छाड़ करने वाले मनचले लड़के खुद को समाज सुधारक बता रहे हैं. मनचले दोनों को भद्दी-भद्दी गालियां  दे रहे हैं और मारपीट कर रहे हैं. इस बीच कुछ लड़के पीड़िता को नोचने-खसोटने लगते हैं. वहीं एक लड़का पूरी घटना का वीडियो बना लेता है.

पिता ने पैसे देने से किया इनकार

छेड़खानी के साथ-साथ इन तथाकथित गुंडों ने लड़की के पिता को ब्लैकमेल करने की कोशिश की. और वीडियो के एवज में 50 हजार रुपए मांगें. लेकिन पीड़िता के पिता ने पैसे देने से इनकार कर दिया. दरअसल, लड़की के पिता एक गरीब आदमी हैं जिसकी वजह से वो ये रकम नहीं दे पाए जिसके बाद इन वहशियों ने लड़की के साथ दरिंदगी का वीडियो सोशल मिडिया पर पोस्ट कर दिया.

 

लड़की का कॉलेज और कोचिंग जाना बंद 

लड़की की छेड़खानी का ये वीडियो वायरल होने के बाद उसका कॉलेज और कोचिंग जाना बंद हो गया है. पीड़िता के पिता का कहना है कि अब वो समाज में क्या मुंह दिखाएंगे. इस घटना के बाद से पीड़ित परिवार इस कदर दहशत में है कि लड़की के पिता ने आरोपियों के भय से थाने में मामला दर्ज ना कराकर कोर्ट में मामला दर्ज कराया है. इस मामले में अभी किसी की गिरफ़्तारी नहीं हुई है. बता दें कि ये घटना जिले के छौड़ादानो थाना क्षेत्र की है.

‘सुशासन’ वाले बिहार में लड़कियों के लिए बाहर निकलना मुहाल होता जा रहा है. जहानाबाद से शुरु हुआ इस तरह की छेड़खानी का वीडियो गया, नालंदा, कैमूर होते हुए अब मोतिहारी तक पहुंच गया. बिहार में भले ही सुशासन होने का दावा किया जा रहा है, लेकिन हाल के दिनों में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध ने राज्य में कानून-व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है.
न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: