न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पांडे गणपत राय के गांव से सुदेश ने की स्‍वराज स्‍वाभिमान यात्रा के तीसरे चरण की शुरुआत

76

Lohardaga: आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने सोमवार को विशुनपुर विधानसभा क्षेत्र के भंडरा प्रखंड के शहीद पांडे गणपत राय के जन्‍मस्‍थली भौंरो गांव से स्‍वराज स्‍वाभिमान यात्रा के तीसरे चरण की शुरूआत की. इसके पहले सुदेश पहले चरण में कोयलांचल और दूसरे चरण में कोल्‍हान में स्‍वराज स्‍वाभिमान यात्रा पूरी की.

100 गांवों में जनसंवाद, 150 गांवों में पदयात्रा करेंगे

अपने स्‍वराज स्‍वाभिमान यात्रा के तीसरे चरण आरंभ करने से पहले सुदेश महतो ने शहीद पांडे गणपत राय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. यह यात्रा यहां से शुरू होकर बिशुनपुर, लोहरदगा, चतरा, सिमरिया व बड़कागांव में जाकर समाप्त होगी. इस दौरान सुदेश महतो करीब 100 गांवों में जनसंवाद व 150 गांवों में पदयात्रा कर लोगों से रूबरू होंगे. भंडरा के भौंरो में आजसू के सुप्रीमो सुदेश महतो ने ग्रामीणों व आम लोगों से सीधा जनसंवाद स्थापित किया. बता दें कि साल 2011 में शहिद पांडे गणपत राय के जन्मस्थली भौंरों गांव को सुदेश महतो ने गोद लिया था. इस गांव की या फिर 5 विधानसभा क्षेत्र में चलने वाले स्वाभिमान यात्रा में सरकार को ये दिखलाना है कि आप जो घोषणा करते हैं वह धरातल पर कहां है. गांव में आज भी राशन कार्ड, वृद्धा पेंशन,आवास योजना, बिजली, पानी की भारी किल्लत है उसके बावजूद भी सरकार को इस ओर नजर नहीं आ रही है.

सरकार के खिलाफ कुछ नहीं बोले सुदेश, कहा- जनता से मिलने आये हैं

इस दौरान सुदेश महतो सरकार के खिलाफ कुछ भी कहने से बचते रहे. हालांकि उन्होंने इतना कहा कि‍ उनकी पार्टी और वे सरकार के कामकाज पर अपनी बात रख चुके हैं. वे यहां पर जनता से मिलने आये हैं. सुदेश महतो ने पारा शिक्षक मामले में कहा कि वे पारा शिक्षकों के आंदोलन के साथ हैं. कार्यक्रम के दौरान सुदेश महतो ने ग्रामीणों से मुलाकात कर उनसे सीधा संवाद स्थापित किया.

आजसू पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता देवशरण भगत ने कहा कि बिरसा व गांधीजी के सपने के सोच में झारखंड आज कहां खड़ा है. हम इस गांव से इसलिए पदयात्रा शुरू कर रहे हैं ताकि सरकार के नजरों में जा सके कि‍ गांव की क्या स्थिति है. यहां मूलभूत सुविधा का अभाव कितना है. इस मौके पर हसन अंसारी केंद्रीय उपाध्यक्ष, रामलखन साहू जिला अध्य्क्ष, बलराम कुमार, शिबू साहू, परमानंद महतो,कलीम अंसारी, जिला परिषद उपाध्यक्ष सुनैना कुमारी, मंजू देवी, अनीता देवी सहित कार्यकर्ता मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें: 52 करोड़ खर्च कर बिहार से मंगाये 82129 नक्शे, फिर भी झारखंड में नहीं सुलझ रहा जमीन विवाद

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: