न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुब्रमण्यम स्वामी ने नये गवर्नर शशिकांत दास पर भ्रष्टाचार में लिप्त रहने का आरोप लगाया

1,184

NewDelhi : आरबीआई के नये गवर्नर शशिकांत दास भ्रष्टाचार में लिप्त रहे हैं. यह सनसनीखेज आरोप भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने लगाये हैं.  स्वामी ने एएनआई से बातचीत के क्रम में कहा कि दास को आरबीआई गवर्नर के रूप में नियुक्त करने का फैसला गलत है. आरोप लगाया कि दास पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेसी नेता पी.चिदंबरम के साथ भ्रष्टाचार संबंधी गतिविधियों में लिप्त रहे हैं. कहा कि वह चिदंबरम को अदालती मामलों में बचाने की कोशिश कर चुके हैं.  मुझे नहीं मालूम कि यह फैसला क्यों लिया गया.  मैंने आरबीआई गवर्नर की नियुक्ति पर अपने विरोध को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है. बता दें कि केंद्र सरकार और आरबीआई के बीच जारी तनातनी की खबरों के बाद सोमवार को अचानक उर्जित पटेल ने इस्तीफा दे दिया था .   मंगलवार 11 दिसंबर को सरकार ने पूर्व नौकरशाह शशिकांत दास को आरबीआई का नया गर्वनर बना दिया. वे  15वें वित्त आयोग के सदस्य भी हैं.

दास वरिष्ठ और अनुभवी नौकरशाह रहे हैं : जेटली

आरबीआई गवर्नर के रूप में उनका कार्यकाल तीन वर्षों का रहेगा.  दास 1980 बैच के तमिलनाडु कैडर के आईएएस अधिकारी हैं. बता दें कि आर्थिक मामलों के पूर्व सचिव दास ने बुधवार (12 दिसंबर) को आरबीआई गवर्नर का पदभार संभाला.  उर्जित पटेल 1990 के बाद पहले ऐसे आरबीआई गवर्नर हैं, जिन्होंने कार्यकाल खत्म होने से पहले ही आरबीआई गवर्नर की कुर्सी छोड़ दी.  पद संभालने के बाद दास ने एक ट्वीट कर कहा, भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर की जिम्मेदारी संभाली. आप सभी का शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उन्हें आरबीआई के शीर्ष पद के लिए सही साख वाला व्यक्ति बताया. कहा, दास वरिष्ठ और अनुभवी नौकरशाह रहे हैं.  उनका पूरा कामकाजी जीवन लगभग देश के आर्थिक और वित्तीय प्रबंधन में गुजरा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: