HEALTHJharkhandNEWSPalamuRanchi

MEDININAGAR की सुआ पंचायतः एक माह में 14 मौतें, वैक्सीन लेने से कतरा रहे हैं ग्रामीण

न्यूज विंग ने सुआ पंचायत के लोगों से की बात

Palamu: पलामू जिला मुख्यालय मेदनीनगर से सटे सुआ पंचायत क्षेत्र में पिछले 1 माह में 14 मौतें हुईं हैं. इससे पंचायत में कोरोना संक्रमण और वैक्सीनेशन के प्रति ग्रामीणों में भय का माहौल बन गया है. लोग टीका लेने से कतरा रहे हैं. गांव में 18 से 44 वर्ष तक के अधिकतर लोगों ने अब तक वैक्सीन नहीं ली है.

कोरोनारोधी टीका के नाम पर ही भड़क रहे हैं लोगः

एक माह के भीतर इस क्षेत्र में 14 ग्रामीणों की मौत हो जाने से गांव के लोग सहमे हुए हैं. एक की मौत कोरोना संक्रमण से और शेष लोगों की मौत अलग-अलग बीमारियों से हुई है. बावजूद गांव के अधिकांश लोग कोरोना संक्रमण और कोरोनारोधी टीका के नाम पर ही भड़क रहे हैं. पांच दिनों के भीतर स्वास्थ्य विभाग के अलावा प्रशासनिक टीम भी मामले की जांच करने गांव पहुंची है. अब टीम पहुंचने की खबर से भी मृतक के परिजन आक्रोशित हो जा रहे हैं.

न्यूज विंग संवादाता ने आज सुआ पंचायत का जायजा लिया. मेदिनीनगर से निकलते ही चियांकी पहाड़ होते हुए सुआ पंचायत पहुंचा. सुआ के गोदाम चौक पर एक व्यक्ति सब्जी बेच रहा है. उनसे बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि वे गोदाम टोला के ही निवासी हैं. गांव में लगातार मौत होने की खबर है. हालांकि मौत दूसरे टोलों में हुई है. इसलिए यहां ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ा है.

इसे भी पढ़ें: ना बैंड-बाजा, ना बाराती, 24 किमी साइकिल चलाकर अकेले ही शादी करने पहुंचा दूल्हा

वहीं, किराना दुकान संचालक अनुप कुमार गुप्ता बताते हैं कि दूसरे टोलों में मौत से खौफ हो गया है. पूछने पर बताया कि स्वजनों को कोरोना से बचाव के टीके दिला दिए गए हैं. दूसरा डोज दिलाएंगे. वे खुद टीका लेना चाहते हैं. गांव में टीकाकरण की सुविधा नहीं है. केवाल टोला में अनंत सिंह नामक बुजुर्ग की 75 वर्षीय पत्नी तेतरी देवी की मौच आठ मई को हो गयी. उन्होंने बताया कि दो वर्ष पूर्व वह लकवाग्रस्त हो गई थी. अचानक मौत हो गई.

इसे भी पढ़ें: राजस्थान के दो जिलों में 600 बच्चे बीमार, कहीं तीसरी लहर तो नहीं

वहीं पूर्व पंचायत समिति सदस्य उपाध्याय सिंह ने पूछने पर बताया कि उन्होंने टीका नहीं लिया है. वे टीका लेने से अब भी डर रहे हैं. पिछले दिनों की चियांकी के एक व्यक्ति ने टीका लिया था. टीका लेने के अगले दिन बीमार पड़ गया और उसे एक निजी क्लीनिक में 70 से 80 हजार रुपए खर्च कर इलाज कराना पड़ा. अगर टीका लिया तो उसकी भी स्थिति खराब हो जाएगी.  बुढ़वा पीपर टोला पहुंचने पर युवक सुरेंद्र कुमार सिंह मिले. उन्होंने बताया कि मौत कोरोना से नहीं हुई है. समाज को जागरूक करने की कोशिश कर रहे हैं.

जानें कहां,किसकी, कैसे हुई मौत

-सुआ पंचायत के केवाल टोला निवासी अंनत सिंह की 75 वर्षीय पत्नी तेतरी देवी की मौत लकवाग्रस्त होने के कारण हुई.

– सुआ पंचायत के जामुन टोला निवासी रामू सिंह की 65 वर्षीय पत्नी जौतरी देवी की मौत हुई. वह लंबे समय से बीमार चल रही थी.

– सुआ पंचायत के जामुन टोला निवासी बरत सिंह के 50 वर्षीय पुत्र कृष्णा सिंह की मौत हृदय गति रूकने से बताया जाता है.

– सुआ पंचायत के बुढ़आ पीपर टोला निवासी प्रताप सिंह की 65 वर्षीय पत्नी पालो देवी कई दिनों से बीमार थी.

– सुआ पंचायत के बुढ़आ पीपर टोला निवासी संजय सिंह की 45 वर्षीय पत्नी सुरेबा देवी भी पिछले कुछ दिनों से बीमार थी. अचानक उनकी मौत हो गई.

-सुआ पंचायत के नौका आहर टोला निवासी 46 वर्षीय नंद कुमार सिंह कड़ी धूप में सफर कर दोपहर को घर पहुंचे. अचानक नहाने के बाद उनकी मौत हो गई.

-सुआ पंचायत के आहर टोला निवासी 55 वर्षीय शंभू सिंह की मौत का कारण सामान्य बीमारी माना जा रहा है.

-सुआ पंचायत के ठाकुर टोला निवासी 61 वर्षीय शंखपाल ठाकुर की भी मौत का कारण सामान्य माना जा रहा है.

-सुआ पंचायत के भूसही टोला निवासी कलीम मियां की 39 वर्षीय तस्लीमा बीबी की मौत हॄदय गति रुकने से हो गई थी.

-सुआ पंचायत के डीटीएस ला निवासी दीप नारायण सिंह की 60 वर्षीय पत्नी की मौत कोरोना संक्रमण से होने की बात आ रही है. बताया जाता है कि मेदिनी राय मेडिकल  कालेज अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हुई थी.

-सुआ पंचायत के बुढ़आ पीपर टोला निवासी ब्रम्हदेव सिंह की 68 वर्षीय पत्नी भुना देवी ब्लड प्रेशर की मरीज थी. इसी से उनकी मौत हुई.

-सुआ पंचायत के लहसुनिया टोला निवासी 71 वर्षीय मूनल सिंह की सामान्य मौत हुई.

-सुआ पंचायत के निराला टोला निवासी 70 वर्षीय भोला सिंह की सामान्य मौत हुई.

-सुआ पंचायत क्षेत्र  निवासी सोना सिंह की 58 वर्षीय पत्नी की मौत लकवा मारने से हो गई.

इसे भी पढ़ें: देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या तीन लाख के पार, नये मरीज ढाई लाख के नीचे

 

Advt

Related Articles

Back to top button