NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जनजातीय भाषा में छात्रों को मिलेगी विषयवार डिग्री

जनजाति के सभी समुदायों को मिलेगा आरक्षण का लाभ

225

Ranchi: अब जनजातीय भाषा में छात्रों को विषयवार डिग्री मिलेगी. टीएससी की बैठक में इस पर सहमति बनी. इसके लिये अलग जनजातीय भाषा विभाग खोला जायेगा. वहीं जनजाति के विभिन्न समुदायों जैसे भुईंहर मुंडा, लोहरा, लोहार, घटवाल, घटवार, चिकबड़ाईक, खूंटकटी मुंडा सहित अन्य समुदाय जो आरक्षण के लाभ से वंचित हैं. इसके लिये ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा की अध्यक्षता में बनी समिति प्रतिवेदन देगी. इसमें राजस्व और कार्मिक सचिव भी सुझाव देंगे. समिति को छह माह का अवधि विस्तार दिया गया है. इस समिति की विशेष बैठक नौ अगस्त को होगी.

इसे भी पढ़ें-रांची में महामारी से अब तक तीन लोगों की मौत, जांच में मिले चिकनगुनिया के 27 व डेंगू के 2 मरीज

सभी जनजातीय भाषाओं के होंगे अलग-अलग सिलेबस

जनजातीय भाषा के विकास के लिये भाषा अकादमी के गठन का निर्णय लिया गया. सभी जनजातीय भाषा के अलग-अलग सिलेबस तैयार करने पर सहमति बनी. प्रदेश में चल रहे 11 आश्रम स्कूलों को सीबीएसइ से संबद्ध करने पर सहमति बनी.

इसे भी पढ़ें-ग्राम न्यायालयों की स्थापना राज्य सरकार की जिम्मेदारी, केवल 9 राज्यों में 210 ग्राम न्यायालय ही कार्यरत

टीएसी का होगा अपना सचिवालय

madhuranjan_add

बैठक में टीएसी के सचिवालय का प्रस्ताव रखा गया. इसमें भी सैद्धांतिक सहमति बनी. कहा गया कि सचिवालय होने से नियमित काम होगा. जनजातीय समुदाय के छात्रवृति का बजट बढ़ाने पर भी सहमति बनी. इस पर मसले पर मुख्यमंत्री दिल्ली में केंद्रीय मंत्री और वित्त मंत्रालय से बात करेंगे. वर्तमान में प्री-मैटिक और पोस्ट मैटिक में छात्रवृति के लिये 500 करोड़ से अधिक की राशि दी जा रही है. लगभग 25 लाख जनजातीय समुदाय के बच्चों को छात्रवृति मिल रही है.

इसे भी पढ़ें-नगर विकास विभाग की बैठक में मंत्री ने कहा, शहर को एजेंसियों ने नर्क बना दिया है

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: