Education & CareerJharkhandNationalNEWS

10वीं में बेसिक मैथ लेने वाले छात्र भी अब 11वीं में चुन सकेंगे मैथमेटिक्स  

इस साल कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए सरकार ने छात्रों को छूट दी

New Delhi:  इस साल 10वीं कक्षा में बेसिक मैथेमेटिक्स का ऑप्शन चुनने वाले छात्र अब कक्षा 11वीं में मैथमेटिक्स चुन सकेंगे. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने इसकी अनुमिति दे दी है. भले ही उन्होंने स्टैंडर्ड मैथ की परीक्षा न दी हो.

बता दें, सीबीएसई कक्षा 10वीं में बेसिक और स्टैंडर्ड मैथ के दो ऑप्शन देता है.  जो छात्र 10वीं में बेसिक मैथ लेते हैं वो 11वीं में स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स विषय नहीं ले सकते, लेकिन इस साल कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए सरकार ने छात्रों को छूट दी.

इसे भी पढ़ें : देश में मंगलवार को मिले 3.62 लाख संक्रमित, स्वस्थ होने वालों की संख्या भी तीन लाख के पार

अब 10वीं में बेसिक मैथेमेटिक्स वाले छात्र 11वीं  में स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स का ऑप्शन चुन सकते हैं. ये छूट केवल वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के लिए है.

जानकारी के अनुसार साल 2019 में सीबीएसइ ने पहली बार कक्षा 10वीं टू लेवल मैथ (स्टैंडर्ड और बेसिक) की शुरुआत की थी. बेसिक मैथ्स उन छात्रों के लिए है जो इस सब्जेक्ट को आगे नहीं बढ़ाना चाहते हैं और स्टैंडर्ड मैथ्स उन छात्रों के लिए है जो कक्षा 11वीं और 12वीं में आगे मैथ की पढ़ाई करना चाहते हैं.

ये नया कॉसेप्ट उन छात्रों पर बोझ को कम करने के लिए शुरू की गई थी, जो हायर क्लासेज में मैथेमेटिक्स को आगे बढ़ाने की इच्छा नहीं रखते हैं.

नियम के अनुसार, जो छात्र आगे कक्षा 11वीं और 12वीं में मैथेमिटक्स का विषय रखना चाहते हैं, उन्हें 10वीं में मैथेमेटिक्स  स्टैंडर्ड पेपर पास करना होगा.

यदि किसी छात्र ने बाद में अपना विचार बदल दिया और निर्णय लिया कि वे कक्षा 11वीं में मैथ्स पढ़ना चाहते हैं, तो उन्हें कक्षा 10वीं के मैथेमेटिक्स स्टैंडर्ड  पेपर के कंपार्टमेंट परीक्षा में उपस्थित होना था.

इसे भी पढ़ें : पटना हाईकोर्ट ने नीतीश सरकार को फटकार लगाई, कहा- ‘अगर आप से स्थिति नहीं संभल रही है तो कोविड का प्रबंधन सेना को सौंप दें’

पिछले साल 6 अगस्त, 2020 को जारी एक नोटिफिकेशन में, सीबीएसई ने कहा: “कोविड -19 के प्रसार और इस प्रकार कंपार्टमेंट परीक्षा 2020 के संचालन में देरी के कारण, यह निर्णय लिया गया है कि वे छात्र जो कक्षा 10वीं में मैथ (बेसिक) के लिए उपस्थित हुए हैं वह कक्षा 11वीं में मैथ का ऑप्शन चुन सकते हैं.”

इसे भी पढ़ें : चुनाव संपन्न के बाद लगातार दूसरे दिन पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी, जानिये- कितनी वृद्धि हुई

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: