न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गाउन नहीं भारतीय परिधान में डिग्रियां लेंगे रांची विवि के विद्यार्थी

230
  • रांची यूनिवर्सिटी सिंडीकेट की बैठक में लिया गया फैसला
  • 29 मार्च को आयोजित होगा दीक्षांत समारोह, 86 विद्यार्थियों को मिलेगा गोल्ड मेडल
  • 56,616 छात्रों को मिलेगी उपाधि

Ranchi: रांची यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में अब विद्यार्थियों को डिग्रियां लेते वक्त गाउन के बदले भारतीय परिधान पहनना होगा. शुक्रवार हुई सिंडीकेट की बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया गया. इस वर्ष दीक्षांत समारोह 29 मार्च को आयोजित किया जाएगा. यूनिवर्सिटी की ओर से गोल्ड मेडलिस्ट छात्रों की सूची तैयार कर ली गई है. समारोह में सत्र 2015-17 और सत्र 2016-18 के विद्यार्थयों को सम्मानित किया जाएगा. जिसमें 2017 के 34, 2018 के 32 छात्रों को उपाधि दी जायेगी. वहीं व्यावसायिक शिक्षा में 2017 के 10 और 2018 के 10 छात्रों को उपाधि प्रमाण पत्र मिलेगा. सभी विषयों के टॉपरों को समारोह में राज्यपाल सह कुलाधिपति की ओर से सम्मानित किया जाएगा. रांची विश्वविद्यालय से संबद्ध अन्य व्यावसायिक संस्थाओं में निफ्ट, रिम्स, इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज शामिल हैं. जिनके टॉपरों को भी इसी दिन सम्मानित किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – चुनाव नजदीक आते ही वामदलों को महसूस होने लगी गठबंधन की जरूरत

56,616 विद्यार्थी होंगे सम्मानित

सत्र 2015-17 और सत्र 2016-18 के कुल 56,616 विद्यार्थियों को उपाधि दी जायेगी. जिसमें रांची विश्वविद्यालय के सभी कॉलेजों और व्यावसायिक संस्थानों के विद्यार्थी शामिल होंगे. बैठक में आयोजन के लिए 25 लाख रुपये की स्वीकृति दी गई है.

इसे भी पढ़ें – 45 मिनट की बारिश से शहर का हाल हुआ बेहाल

तय किया गया ड्रेस कोड

हर साल की तरह इस साल भी यूनिवर्सिटी की ओर से दीक्षांत समारोह के लिए ड्रेस कोड तय किया गया. बैठक में भारतीय परिधान में ही छात्रों को उपाधि देने की सहमति बनी. जिसमें छात्राओं को लाल बॉर्डर वाली सफेद साड़ी एवं लाल ब्लाउज या सफेद रंग का सलवार कुर्ता एवं लाल दुपट्टा पहनना है. वहीं छात्रों के लिए सफेद धोती-कुर्ता या सफेद पायजामा और कुर्ता तय किया गया. दीक्षांत समारोह से संबधित जानकारी रांची यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर उपलब्ध है. वेबसाइट से छात्र दीक्षांत समारोह से सबंधित जानकारी हासिल कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें – भारी विरोध के बीच गिरिडीह में चला अतिक्रमण हटाओ अभियान

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: