न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Kolkata: टेरर फंडिंग के आरोप में छात्रा गिरफ्तार, लश्कर-ए-तैयबा से है संबंध

754

Kolkata: राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की टीम ने टेरर फंडिंग के आरोप में एक छात्रा को गिरफ्तार किया है. उसका नाम तानिया परवीन है. वह उत्तर 24 परगना के बसीरहाट क्षेत्र अंतर्गत बादुरिया की रहने वाली है. वह कॉलेज में पढ़ती है.

बताया गया है कि पाकिस्तान के खूंखार आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से उसका संबंध है. केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश पर उसे गिरफ्तार किया गया है.

एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि तानिया के बैंक अकाउंट में करोड़ों रुपये का लेन-देन विदेशों से हुआ था. इस धनराशि का इस्तेमाल आतंकवाद को फंडिंग करने के लिए हो रहा था.

उसके खाते में बड़े पैमाने पर आर्थिक लेन-देन की जानकारी मिलने के बाद गृह मंत्रालय ने निगरानी बना कर रखी थी.

इसे भी पढ़ें : #DVC अभियंता के आवास पर जबरन कब्जे के मामले ने पकड़ा तुल, थाने को आवेदन, उत्पादन ठप करने की चेतावनी

Whmart 3/3 – 2/4

छापेमारी कर दबोचा

छात्रा के आतंकवादी संगठन से जुड़े होने की जानकारी पुख्ता होने के बाद कोलकाता पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स से संपर्क किया गया.

सारे तथ्यों को जांचने के बाद गुरुवार सुबह एसटीएफ की टीम ने बादुरिया इलाके में छापेमारी की और 21 साल की उस छात्रा को धर दबोचा गया है.

सुरक्षा एजेंसियों का दावा है कि वह दो साल से लश्कर-ए-तैयबा के साथ जुड़ी हुई है. बादुरिया के घर से ही वह मजहबी कट्टरता को फैलाती रही है.

कई युवकों को उसने आतंकवादी गतिविधियों से जुड़ने के लिए तैयार भी किया है. इसके लिए वह कई बार कश्मीर जा चुकी है.

Related Posts

लॉकडाउन के बीच ममता ने दी 15 फीसदी चाय बगानों को खोलने की मंजूरी

सोशल डिस्टेंसिंग के प्रावधानों का ख्याल रखने को कहा गया

दिल्ली और मुंबई भी गयी है जहां शीर्ष आतंकी कमांडरों के साथ उसकी बैठक होने की आशंका है. बताया गया है कि वह द्वितीय वर्ष की छात्रा है.

उसके घर से एक डायरी मिली है जिसमें पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के कई शीर्ष कमांडरों का मोबाइल नंबर मिला है.

इसे भी पढ़ें : जल संसाधन विभाग में इंजीनियरों के 52 पद खाली, सदन में सवाल आया तो दो माह में भरने का सरकार ने दिया आश्वासन

आतंकियों की तस्वीरें व कट्टरता वाली किताबें मिलीं

कई आतंकवादियों की तस्वीरें और मजहबी कट्टरता से संबंधित किताबें भी बरामद हुई हैं. उसके मोबाइल फोन को ट्रेस करने पर पता चला है कि पाकिस्तान सहित कई देशों के लोगों के साथ उसकी नियमित बातचीत होती रही है.

उसे गिरफ्तार करने के बाद उसके खिलाफ देशद्रोह, मजहबी कट्टरता फैलाने समेत कई अन्य संगीन धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

उसे दोपहर के समय बसीरहाट न्यायालय में पेश किया गया जहां से 14 दिनों के पुलिस रिमांड पर लिया गया है.

पाकिस्तान से आते थे फोन

बसीरहाट महकमा अदालत के सरकारी अधिवक्ता अरुण कुमार पाल ने बताया कि लंबे समय से छात्रा के मोबाइल फोन को ट्रेस किया जा रहा था जिस पर पाकिस्तान से फोन आते थे.

उसके खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा-121, 124 ए, 120 बी, 410 और 420 सहित देशद्रोहिता, षड्यंत्र रचने और जन सुरक्षा के लिए खतरा बनने की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू की गयी है.

पुलिस उससे पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि उसके और साथी कौन-कौन से हैं, किसे उसने आतंकी संगठनों से जोड़ा है. उसके घर वालों पर भी नजर रखी जा रही है.

इसे भी पढ़ें : पारा शिक्षकों को करना होगा आयोग की अनुशंसा का इंतजार, TTPS का मामला ध्यानाकर्षण समिति के हवाले

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like