JharkhandLead NewsRanchi

सख्ती : ड्यूटी से गायब रहने वाले डॉक्टरों की कटेगी सैलरी

Ranchi: रिम्स में काम करने वाले सीनियर डॉक्टरों से लेकर जूनियर डॉक्टर सभी को अब ड्यूटी पर तैनात रहना होगा. अगर कोई डॉक्टर ड्यूटी के समय अपने वार्ड से गायब रहता है तो ऐसे डॉक्टरों की सैलरी काटने का आदेश डायरेक्टर ने जारी कर दिया है. इतना ही नहीं अब प्राइवेट प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टरों की भी खैर नहीं है. जल्द ही उनपर भी कार्रवाई शुरू की जाएगी. फिलहाल डॉक्टरों को प्राइवेट प्रैक्टिस बंद करने को लेकर नोटिस जारी कर दिया गया है. ये बातें शुक्रवार को रिम्स डायरेक्टर डॉ कामेश्वर प्रासद ने कही. बताते चलें कि रिम्स डायरेक्टर ने कई बार इंस्पेक्शन के दौरान डॉक्टरों को ड्यूटी पर नहीं पाया था. वहीं उन्हें शोकॉज भी किया गया था. लेकिन उनकी ओर से कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला. इस मौके पर अधीक्षक डॉक्टर हिरेन बिरूआ, उपाधीक्षक डॉक्टर शैलेश त्रिपाठी, सर्जन सह पीआरओ डाक्टर डीके सिन्हा मौजूद दे.

इसे भी पढ़ें :  सामान्य औपचारिक बजट के स्थान पर अभिनव,लीक से हट कर बजट पेश करने का साहस दिखाना चाहिए था

कुछ डॉक्टरों को मुझसे परेशानी

Catalyst IAS
ram janam hospital

रिम्स डायरेक्टर ने कहा कि हॉस्पिटल को नियम कानून से चलाना चाहता हूं. लेकिन कुछ डॉक्टरों को इससे परेशानी है और वे मुझे हटाना चाहते हैं. इसके लिए वह लगातार प्रयास भी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं भी हार मानने वाला नहीं हूं. जो भी नियम संगत होगा वही काम करूंगा. इसके लिए जो भी सख्ती करनी होगी वह रास्ता अपनाया जाएगा. वहीं नियम नहीं मानने वालों को कार्रवाई के लिए तैयार रहना होगा.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

ब्रांडेड दवा लिखे तो करें कंप्लेन

सुपरिंटेंडेंट डॉ हिरेन बिरूआ ने कहा कि जन औषधि केंद्र का संचालन विन्ध्या मेडिकल कर रही है. अब इस सेंटर में 575 तरह की दवाएं उपलब्ध कराई गई है. एमआरपी से 7 प्रतिशत डिस्काउंट भी मिल रहा है. वहीं ब्रांडेड दवा लिखे जाने को गंभीरता से लेते हुए डायरेक्टर ने लोगों से इसकी कंप्लेन अधिकारियों से करने की बात कहीं. उन्होंने कहा कि जबतक मामला हमारे संज्ञान में नहीं आता है तो जानकारी कैसे मिलेगी. इसके बाद देखा जाएगा कि डॉक्टर जेनरिक दवाएं क्यों नहीं लिखते है.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand विधानसभा सत्र: संवैधानिक आयोग और न्यायाधिकरण के अध्यक्ष और सदस्यों के रिक्त पदों पर नियुक्ति फिलहाल विचाराधीन

ये भी है रिम्स की तैयारी

-हॉस्पिटल में 370 नर्सों की होगी बहाली, जेएसएससी को अधियाचना भेजी
-सातवें वेतनमान के एरियर का भुगतान जल्द ही डॉक्टरों को किया जाएगा
-17 लाख से 33 लाख रुपए तक किया जाना है एरियर भुगतान, 16,59,34,443 रुपये होंगे खर्च
-इग्नू की ओर से हॉस्पिटल मैनेजमेंट कोर्स को मिली मान्यता, झारखंड का पहला मेडिकल कॉलेज
-डॉक्टरों का अगले हफ्ते से प्रमोशन देने की प्रक्रिया होगी तेज

Related Articles

Back to top button