Corona_UpdatesJharkhandKoderma

गलत रिपोर्ट बताकर अगर ड्यूटी से गायब पाये गये तो होगी सख्त कार्रवाई – डीसी

Koderma. कोविड संक्रमण से बचाव व नियंत्रण के लिए उपायुक्त कोडरमा रमेश घोलप ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की. इसमें सभी प्रखंडों के विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी और थाना प्रभारियों से क्षेत्र का जायजा लिया.

उपायुक्त ने सभी अधिकारियों को कहा कि राज्य सरकार द्वारा लागू स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को 13 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है. पूर्व से चल रहे दिशा-निर्देश इस दौरान भी लागू रहेंगे.

advt

ऐसे में उन्हें और भी ज्यादा सचेत और सतर्क रहने की आवश्यकता है. यदि किसी भी तरह के जुलूस, सभा या धार्मिक सामाजिक कार्यक्रम का आयोजन होता है और स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के नियमों की अनदेखी की की जाती है तो कार्रवाई की जाएगी.

उपायुक्त ने बताया कि शादी जैसे आयोजनों में अधिकतम पचास लोगों को ही रहने की इजाजत है. इस पर विशेष निगरानी रखी जाये. बारात के अवसर पर अगर डीजे साउंड के कारण अनावश्यक भीड़ होती है तो इसे अविलंब बंद कराएं.

इसे भी पढ़ें :गृह मंत्रालय ने बंगाल में चुनावी हिंसा की जांच के लिए चार सदस्यीय दल बनाया, ममता ने दिये CID जांच के आदेश

गलत रिपोर्ट देकर ड्यूटी से गायब रहने वाले पर कार्रवाई

बैठक में उपस्थित सिविल सर्जन डॉ एबी प्रसाद ने बताया कि कोविड ड्यूटी में लगे कुछ कर्मी अपने को पॉजिटिव बताकर गलत रिपोर्ट बताकर ड्यूटी से अनुपस्थित हैं.

उपायुक्त ने कहा कि कोविड महामारी के समय इस तरह का कृत्य शर्मनाक है. ड्यूटी में लगे कुछ कर्मी कहीं न कहीं लोगों का जीवन बचाने में लगे हुए हैं और कुछ लोग बहानेबाजी कर रहे हैं.

उन्होंने निदेश दिया है कि अनुपस्थित कर्मी अपनी जांच रिपोर्ट देंगे. यदि किसी ने प्रशासन को गुमराह किया तो उनपर आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें :मनरेगा: हर गांव में 6 योजनाओं का होगा संचालन

सरकारी कोविड अस्पताल और सदर हॉस्पिटल में इलाज कराएं

उपायुक्त ने बताया कि सरकारी कोविड हॉस्पिटल कोडरमा के माइनिंग कॉलेज में बनाया गया है. लोग यहां आकर इलाज करा सकते हैं.

यह हॉस्पिटल कोडरमा पटना हाईवे के बागीटांड़ स्टेडियम के बगल में है. डोमचांच कोविड हॉस्पिटल डीसीएचसी को बंद करके यहां शिफ्ट किया गया है.

बैठक में उप विकास आयुक्त आर रोनिटा ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों से प्रखंडवार टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा की तथा इसमें और भी तेजी लाने का निदेश दिया.

एसडीओ मनीष कुमार ने कोरोना से उबरे हुए स्वस्थ लोगों को ब्लड प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की है ताकि कोविड मरीजों के ईलाज में इसका उपयोग किया जा सके.

बैठक में मुख्य रूप से उप विकास आयुक्त आर रोनिटा, अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार, जिला आपूर्ति पदाधिकारी प्रमोद राम, सिविल सर्जन डॉ एबी प्रसाद, डॉ मनोज, जिला खनन पदाधिकारी मिहिर सलकर, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी सुभाष यादव, जिला खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी सुबीर कुमार, श्रम अधीक्षक अभिषेक कुमार, मुख्यालय पुलिस अधीक्षक मुख्य रूप से उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें :बंगाल हिंसा : मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख देगी ममता कहा, बार-बार भाजपा नेताओं के आने से राज्य में बढ़ रहा संक्रमण

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: