Lead NewsNationalNEWSTOP SLIDER

कांग्रेस पार्टी की 2024 लोकसभा चुनाव के लिए रणनीतिक तानाबाना तैयार, दो अक्टूबर से भारत जोड़ो यात्रा पर सोनिया गांधी

New Delhi: 2024 में राजनीतिक वापसी की जद्दोजहद का रोडमैप तैयार करते हुए कांग्रेस पार्टी का तीन दिवसीय उदयपुर चिंतन शिविर संपन्न हो गया. तीन दिनों तक गहन चिंतन के बाद संगठन में अहम सुधार, जनता से जुड़ाव और सड़क पर संघर्ष को राजनीतिक वापसी का मंत्र तय किया गया है. अब पार्टी युवाओं पर अधिक फोकस करेगी. सोनिया गांधी की सक्रियता और बढ़ेगी. सोनिया ने दो अक्टूबर भारत जोड़ो पदयात्रा निकालने की घोषणा की है. इसके तहत कश्मीर से कन्याकुमारी तक पदयात्रा की जाएगी.

 

Sanjeevani

2024 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर घोषणा की गई है कि एक व्यक्ति एक पद और एक परिवार को एक टिकट के साथ संगठन में हर स्तर पर 50 फीसदी पद 50 साल से कम उम्र के युवाओं को दी जाएगी. चुनावों के प्रबंधन और जमीनी सर्वे के लिए अलग-अलग कमेटी बनाने समेत अन्य कई नए कदम उठाने की घोषणा की गई है. संसदीय बोर्ड बनाने की मांग खारिज करते हुए इसकी जगह कांग्रेस अध्यक्ष ने एक सलाहकार समूह के गठन का फैसला किया है. इसके साथ ही  गठबंधन के विकल्प खुले रखने की बात दोहरायी है.

 

MDLM

सोनिया गांधी ने समापन संबोधन में तत्काल एक टास्क फोर्स के गठन की घोषणा की है. इसके साथ जनता का मिजाज जानने व फीडबैक के लिए ‘पब्लिक इनसाईट डिपार्टमेंट’ पार्टीजनों को वैचारिक और नीतिगत प्रशिक्षण देने के लिए ‘राष्ट्रीय ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट’, चुनाव के लिए एआइसीसी में ‘चुनाव प्रबंधन विभाग’ बनाने का फैसला लिया गया है.

 

कांग्रेस पार्टी ने सामाजिक का भी दांव खेलने की तैयारी कर रही है.ओबीसी, एससी-एसटी, महिलाओं और अल्पसंख्यकों को भी संगठन में अहम भागीदारी बढ़ाने का फैसला लिया गया है. इसके लिए पार्टी में सामाजिक न्याय सलाहकार परिषद का गठन किया जाएगा. फोकस में किसानों को भी रखने का भी निर्णय लिया गया है. राष्ट्रीय किसान कर्ज राहत आयोग का गठन कर किसानों की कर्ज मुक्ति का रास्ता निकालने, सिंचाई के लिए किसानों को मुफ्त बिजली देने के साथ अलग से कृषि बजट और किसानों को एमएसपी की कानूनी गारंटी दिलाने का पार्टी ने संकल्प लिया है. इसके साथ ही साथ ही न्याय योजना के तहत हर किसान और खेत मजदूर को 6000 रुपए महीना नगद खाते में ट्रांसफर की भी पैरवी की है. सोनिया गांधी ने समापन भाषण में कहा कि इन मुद्दों को अगले चुनाव (2024 लोकसभा) में पार्टी के घोषणा पत्र में शामिल किया जाएगा.

Related Articles

Back to top button