OFFBEATWorld

अजब-गजब : एक ऐसा व्यक्ति जो 22 सालों से अकेले अमेजन के जंगलों में रह रहा

Sao Paulo (Brazil) : ब्राजील की इंडियन फाउंडेशन द्वारा इस हफ्ते पहली बार जारी किए गए एक वीडियो में एक ऐसे व्यक्ति की दुर्लभ तस्वीरें कैद हुई हैं जिसके बारे में किसी को कोई जानकारी नहीं है. इस व्यक्ति का नाम और यह किन लोगों के साथ आया कोई नहीं जानता. ऐसा प्रतीत होता है कि वह ब्राजील के अमेजन के जंगलों में 22 वर्षों से अकेला रह रहा है. माना जा रहा है कि यह अपनी जनजाति का आखिरी जीवित व्यक्ति है. यह फुटेज 2011 में ली गई थी हालांकि उस पर नजर रखने वाले एक दल ने कहा कि आखिरी बार उसके जिंदा होने के साक्ष्य मई में मिले थे.

इसे भी पढ़ें-  सूखे की नहीं करें चिंता, फसल बीमा के प्रीमियम का भुगतान सरकार करेगी : रघुवर दास

वीडियो में शख्स पेड़ काटता नजर आ रहा

ram janam hospital
Catalyst IAS

पत्तियों के बीच से दूर से ली गई इस फुटेज में यह शख्स एक पेड़ को काटता दिख रहा है. इन तस्वीरों में कुल्हाड़ी से पेड़ को काटने तथा पक्षियों की आवाज सुनी जा सकती है. जारी किए गए वीडियो के साथ एक प्रेस नोट भी दिया गया है. इसमें कहा गया है कि इस शख्स की सिर्फ एक तस्वीर है जो 1990 के दशक में वृत्तचित्र निर्माता ने ली थी जिसमें उस व्यक्ति का चेहरा पत्तों के पीछे छिपा है. व्यक्ति की निगरानी करने वाले दल के समन्वयक आल्टेयर अल्गायेर ने कहा कि फाउंडेशन यह वीडियो जारी नहीं करना चाहता था क्योंकि वह उस शख्स से इसे जारी करने की अनुमति नहीं ले सका है. उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि ऐसी तस्वीरों से उन लोगों के दर्द की तरफ ध्यान आकर्षित करने में मदद मिलती है जो बाहरी दुनिया से अपनी दूरी बरकरार रखने के लिये संघर्ष कर रहे हैं.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें-  घोषणा कर भूल गयी सरकार : 20 जुलाई- सीएम साहब ! न ठीक से क्लीन हुई रांची, ना ही ग्रीन हुई

1996 से इस व्यक्ति पर नजर रख रहा इंडियन फाउंडेशन

अल्गायेर ने टेलीफोन पर दिए गए साक्षात्कार में कहा कि बहुत से लोग यह वीडियो देखना चाह रहे हैं. वह जानना चाहते हैं कि वह शख्स कैसा है, उसे कैसे देखा जा सकता है, क्या वह अब भी जिंदा है. इंडियन फाउंडेशन 1996 से इस व्यक्ति पर नजर रख रहा है जब वह उसे रोंडोनिया राज्य के जंगल में अकेले रहता नजर आया था. माना जाता है कि उसके साथी जानजाति के सभी सदस्य 1995 या 1996 में मर गए. फाउंडेशन के सदस्यों ने उससे संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उसने बाहरी दुनिया से जुड़ने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई. उस पर नजर रखने वाला दल उसे ‘ इंडियन ऑफ द होल ’ कहकर बुलाता है क्योंकि उसने एक अस्वाभाविक गड्ढा खोद रखा है. अल्गायेर ने कहा कि उसकी उम्र 55 से 60 साल के करीब है और उसकी सेहत अच्छी है.

इसे भी पढ़ें- मैं खड़ा भी हूं और चार साल जो काम किये हैं, उस पर अड़ा भी हूं: मोदी

इसे भी पढ़ें- जस्टिस अनिरुद्ध बोस को झारखंड हाई कोर्ट का चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button