Crime NewsGarhwaJharkhand

जेवर दुकानदार के यहां से बरामद किये गये चोरी के आभूषण बरामद, दो गिरफ्तार

Garhwa : गढ़वा पुलिस ने विभिन्न चोरी की घटनाओं का उद्भेदन करते हुए दो चोर को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार चोरों में गढ़वा थाना क्षेत्र के झलुआ गांव निवासी जमील अहमद का पुत्र तबरेज अंसारी एवं स्वर्गीय आजम अंसारी का पुत्र शमशाद अंसारी शामिल हैं. इनके पास से पुलिस ने चोरी के चांदी का चार पुराने सिक्का, सोने का दो पीस जितिया, सोने का एक पीस छुछिया, सोने का एक लॉकेट, एक जोड़ा चांदी का मेहंदी छल्ला, चांदी का दो पीस बिछिया, चांदी का एक पीस लॉकेट, चांदी का दो जोड़ा पुराना पायल तथा एक पीस टूटा हुआ पायल सहित 1730 रुपये नगद बरामद किये हैं.

गढ़वा एसडीपीओ अवध कुमार यादव ने शुक्रवार को गढ़वा थाने में प्रेसवार्ता कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक अंजनी कुमार झा के निर्देश पर उनके नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था. इसके बाद उन्होंने गुप्त सूचना के आधार पर अप्राथमिकी अभियुक्त शमशाद अंसारी को गिरफ्तार किया. उससे कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने अपने द्वारा किए गए अपराध को स्वीकार कर लिया.

इसे भी पढ़ें:बंधु तिर्की ने मुख्यमंत्री से सरकारी वकील के रूप में आदिवासी वकीलों को नियुक्त करने की मांग की

Catalyst IAS
ram janam hospital

पहले बंद घरों की करते थे रेकी

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान शमशाद अंसारी ने बताया कि छठ पूजा के समय से अभी तक लगातार नवादा, बघमनवां, बिंद टोला, मंगल भवन के पीछे सहित विभिन्न बंद घरों का वह पहले रेकी करता है. इसके बाद रात के समय घर का ताला अथवा वेंटीलेटर तोड़कर घर में प्रवेश कर घर से सामान की चोरी करते हैं. उन्होंने बताया कि शमशाद इसी तरह विभिन्न घरों में अपने गिरोह के साथ मिलकर चोरी करता है.

स्वर्ण व्यवसायी सोनू सोनी को बेचते थे चोरी का माल

एसडीपीओ ने बताया कि चोरी किया गया जेवरात को शमशाद अंसारी अपने मां के मदद से गढ़वा स्थित स्वर्ण मंदिर नामक दुकान के स्वर्ण व्यवसायी सोनू सोनी के दुकान में जाकर बेचता था. शमशाद की मां दुकानदार से चोरी के सामान को अपना पुराना गहना बता कर उसके हाथों बेच देती थी. बेचने पर मिले पैसे को वे लोग अपने निजी कार्य में खर्च करते थे.

एसडीपीओ ने बताया कि स्वर्ण मंदिर ज्वेलर्स के प्रोपराइटर सोनू कुमार को भी पुलिस पूछताछ के लिए थाना लायी थी. पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया है. उन्होंने बताया कि छानबीन के दौरान इस मामले में स्वर्ण व्यवसायी की संलिप्ता पायी जायेगी, तो आगे की कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें:हाइकोर्ट ने कहा- जंगली जानवर और जंगल गायब हो रहे और वन पदाधिकारियों के पास कोई काम नहीं

शमशाद अंसारी पांच बार जा चुका है जेल

एसडीपीओ ने बताया कि शमशाद अंसारी की निशानदेही पर अनूप शुक्ला के घर में हुई चोरी के सामान को पुलिस ने स्वर्ण मंदिर ज्वेलर्स से बरामद कर लिया है. साथ ही उसके निशानदेही पर तबरेज अंसारी को भी गिरफ्तार कर लिया गया. एसडीपीओ ने बताया कि शमशाद अंसारी चोरी के मामले में पूर्व में पांच बार जेल जा चुका है. जबकि तबरेज अंसारी दो बार जेल जा चुका है. ये लोग जेल से बाहर आते ही फिर से चोरी में लग जाते हैं.

छापामारी टीम में थाना प्रभारी कृष्ण कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक संजय कुमार, कृष्ण कुमार कुशवाहा, लूसी रानी, रोशन कुमार, सहायक अवर निरीक्षक अभिमन्यु कुमार सिंह, एमन कंडुलना, आरक्षी नीरज कुमार पांडेय, श्रीकांत पासवान, इंद्र कुमार मंडल आदि शामिल थे.

इसे भी पढ़ें:ग्राम पंचायतों को 6 करोड़ और पंचायत समिति को 5 करोड़ खर्च का लक्ष्य

Related Articles

Back to top button