न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राज्य के क्रांतिकारियों ने आजादी की लड़ाई को दी दिशा, युवा क्रांतिकारियों से सीख लें: एस अली

ज्वलंत मुद्दों पर युवाओं को आगे आना होगा

15

Ranchi: किसी भी क्रांति को सुलगाने के लिए सिर्फ चिंगारी और हवा की जरूरत होती है. वर्तमान समय में भी ऐसा लग रहा है कि चिंगारी सुलग चुकी है. बस इसे हवा करने की जरूरत है. जिस तरह से सरकार लगातार युवाओं और अल्पसंख्यकों के हितों को नजरअंदाज कर काम कर रही है. उससे ऐसा लगता है कि आने वाला चुनाव किसी क्रांति से कम नहीं होगी. उक्त बातें आमया के अध्यक्ष एस अली ने कहा. वे आमया की ओर से आयोजित ‘साझी शहादत, साझी विरासत’ सेमिनार को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमारे राज्य के क्रांतिकारियों ने देश को एक दिशा प्रदान की. जिससे देश में आजादी की लड़ाई शुरू हुई. सेमिनार का आयोजन शहीद शेख भिखारी व शहीद टिकैत उमराव सिंह के शहादत दिवस के पूर्व संध्या पर किया गया.

राज्य क्रांतिकारियों से सीख ले युवा

उन्होंने कहा कि राज्य के क्रांतिकारियों ने देश को आयाम प्रदान किया. ठाकुर विश्वनाथ शाहदेव, पांडेय गणपत राय, दीवान शेख भिखारी, टिकैत उमरांव, सिद्धो कान्हू, बिरसा मुंडा कई ऐसे क्रांतिकारी है, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किये बिना कुर्बान हो गये सिर्फ छोटानागपुर को बचाने के लिए. इसी तरह युवाओं को भी एकजुट होकर आगे आना होगा. तभी देश के ज्वलंत मुद्दों का समाधान हो पाएगा.

देश को सही दिशा की जरूरत

देश की जो वर्तमान स्थिति है. ऐसे में सही दिशा और नेतृत्व की काफी आवश्यकता है. सरकार इसी तरह अगर कार्य करती रही तो निश्चित ही समाजिक क्रांति का जन्म होगा. उन्होंने राज्य के गौरान्वित इतिहास पर प्रकाश डालते हुए युवाओं को संबोधित किया. मौके पर अबरार अहमद, नौशाद मस्तान, मोबिन अंसारी, राजेश कुजूर, महादेव भेंगरा, शमशाद आलम, खुर्शीद आलम समेत अन्य मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: