JharkhandRanchi

राज्य के सेवानिवृत्त कर्मचारियों को नहीं मिल रहा पेंशन पुनर्रीक्षण का लाभ, बाजार में बिक रहे नकली प्रपत्र: अमरनाथ झा

  • योजना सह वित्त विभाग की ओर से प्रपत्र जारी करना है, नहीं होने पर बाजार में बिक रहे नकली प्रपत्र

Ranchi: राज्य में पेंशनरों की समस्याएं बढ़ती जा रही हैं. विभागीय कार्रवाइयों के कारण पेंशनरों को समस्या हो रही है. लेकिन इस संबध में विभाग की ओर से कोई पहल नहीं की जा रही है. उक्त बातें झारखंड पेंशनर कल्याण समाज के अमरनाथ झा ने प्रेस बयान जारी कर कहीं. उन्होंने कहा कि केंद्र के तर्ज पर राज्य में भी योजना सह वित्त विभाग की ओर से पेंशन पुनर्रीक्षण करने का आदेश निर्गत किया गया. लेकिन महालेखाकार की ओर से अभी तक इस संबध में आदेश निर्गत नहीं होने के कारण मामला लंबित है. उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों की ओर से इस संबंध में मुख्य सचिव से बात की गयी. जिसमें जानकारी मिली कि वित्त विभाग की ओर से एक प्रपत्र जारी किया जायेगा. लेकिन अभी तक इस संबध में कोई प्रपत्र जारी नहीं किया गया.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें – समाज कल्याण विभाग ने हाथ खड़े कियेः राज्य के 38400 आंगनबाड़ी केंद्रों में अंडे की आपूर्ति केंद्रीयकृत व्यवस्था से संभव नहीं

बाजार में मिल रहा गलत प्रपत्र

इस संबध में बताया गया कि योजना सह वित्त विभाग की ओर से पेंशनरों के लिए कोई प्रपत्र जारी नहीं किया गया है. जबकि बाजार में गलत प्रपत्रों की बिक्री हो रही है. अमरनाथ झा ने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों से अपील है कि किसी तरह का प्रपत्र नहीं लें क्योंकि विभाग की ओर से अब तक प्रपत्र जारी नहीं किया गया है. वित्त विभाग की ओर से प्रपत्र जारी होने के बाद ही सेवानिवृत्त कर्मचारियों से प्रपत्र लेने की अपील उन्होंने की.

इसे भी पढ़ें – लूटकांड में कंपनी के पूर्व स्टाफ समेत दो गिरफ्तार, डेढ़ लाख कैश व पिस्तौल बरामद  

Samford

बढ़ती जा रही पेंशनरों की समस्या

उन्होंने कहा कि विभाग की ओर से प्रपत्र जारी नहीं करने और पेंशन पुनर्रीक्षण नहीं होने से राज्य के पेंशनरों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है. जबकि एक बहुत बड़ी जनसंख्या पेंशन पर निर्भर है. विभागों की कार्य प्रणाली के कारण पेंशनरों की समस्या बढ़ती जा रही है. उन्होंने योजना सह वित्त विभाग से मांग करते हुए कहा कि जल्द से जल्द राज्य में इससे संबधित प्रपत्र जारी करे. ताकि पेंशनर समाज को लाभ मिल सके.

इसे भी पढ़ें- राहुल गांधी की नेतृत्व क्षमता पर सवाल उठानेवाले दल के साथ कांग्रेस नहीं करेगी गठबंधन : राजेश ठाकुर

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: