DhanbadJharkhandLead NewsNEWSRanchiTOP SLIDER

रांची स्मार्ट सिटी में राज्य के निवेशकों को मिलेगा मौका, निवेशकों से बातचीत के लिए RSCCL की टीम पहुंची धनबाद

धनबाद के टाउन हॉल में 25 जनवरी को होगा इन्वेस्टर्स मीट

Ranchi: स्मार्ट सिटी मिशन के तहत झारखंड की राजधानी रांची में विकसित हो रही स्मार्ट सिटी में झारखंड के निवेशकों को भी अवसर मिलेगा. 656 एकड़ जमीन पर विश्वस्तरीय आधारभूत संरचना के साथ शहर के निर्माण का कार्य तेज गति से चल रहा है. आधारभूत संरचना का काम अंतिम दौर में है.यही वजह है कि स्मार्ट सिटी कारपोरेशन की ओर से प्लॉट्स के ऑक्शन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

वर्तमान में आवासीय, व्यावसायिक, शैक्षणिक ,स्वास्थ्य ,हॉस्पिटैलिटी ,होटल, मिक्स यूज इत्यादि क्षेत्रों के लिए कुल 52 बड़े प्लॉट्स के ऑक्शन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. वैसी कंपनी या डेवलपर्स जो रियल एस्टेट ,शैक्षणिक संस्थान ,अस्पताल ,मॉल ,होटल इत्यादि विकसित करना चाहते हैं वे रांची स्मार्ट सिटी की ऑक्शन प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं. इनके लिए तय की गयी अर्हता पूरी करनेवाले संस्थान ऑनलाइन ऑक्शन प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं.

इसे भी पढ़ें :झारखंड में 19 साल बाद सरकारी स्कूलों में शुरू होगी कर्मचारियों की बहाली

ऑक्शन का प्रोसेस पूरी तरह कॉन्टैक्टलेस

ऑक्शन की प्रक्रिया पूरी तरह कॉन्टैक्टलेस बनायी गयी है. इसी ऑक्शन प्रक्रिया पर धनबाद के निवेशकों के साथ बातचीत के लिए सोमवार दिनांक 25 जनवरी 2021 को सुबह  11 बजे  से धनबाद न्यू टाउन हॉल में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया गया है. इस कार्यक्रम में डेवलपर्स जो रियल एस्टेट ,शैक्षणिक संस्थान ,अस्पताल ,मॉल ,होटल इत्यादि क्षेत्र से जुड़े हैं शामिल हो हो सकते हैं.ई ऑक्शन की पूरी जानकारी  रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन  की वेबसाइट  rsccl.in  औरeauction.rsccl.in  पर उपलब्ध है.

इसे भी पढ़ें :नयी बिजली दरों के लिये आयोग को अब तक नहीं मिला प्रस्ताव, अप्रैल में तय होनी है नयी दरें

37 प्रतिशत एरिया होगा ओपन स्पेस

लगभग 650 एकड़ जमीन में बस रहे ग्रीन फील्ड स्मार्ट सिटी का 37 प्रतिशत क्षेत्र ओपन स्पेस के रूप में रहेगा. इसमें रोड ,ड्रेनेज ,सीवरेज, पार्क और पौधारोपण होगा. बाकी बचे जमीन को अलग-अलग क्षेत्र जैसे शैक्षणिक, आवासीय व्यावसायिक ,होटल उद्योग ,हॉस्पिटल इत्यादि के लिए चिन्हित किया गया है..

निर्बाध जलापूर्ति के लिए 12 एमएलडी वॉटर सप्लाई का डेडीकेटेड पाइपलाइन, वॉटर रिजर्वॉयर और धुर्वा डैम में स्थित वाटर फिल्टर सेंटर में एक अतिरिक्त फिल्टर बेड का निर्माण कराया गया है. इसके अलावा 24 घंटे निर्बाध बिजली भी मिलेगी.

सड़कें 9 मीटर से लेकर 45 मीटर तक चौड़ी होंगी

शहर में कोई भी ओवरहेड वायर नहीं रहेगा इसके लिए सड़कों के किनारे डक्ट बनाकर यूटिलिटी सर्विसेज के सप्लाई का प्रावधान किया गया है.इलाके से गुजरने वाली दो नदियों के  संरक्षण के लिए  रिवर फ्रंट डेवलपमेंट की योजना पर काम चल रहा है.

इसे भी पढ़ें :इस बार देशवासियों के लिए 26 जनवरी के साथ ही 25 जनवरी भी होगी खास, मिलेगी ये सुविधा

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: