JharkhandRanchi

संविधान बचाने के लिए प्रदेश कांग्रेस का राज्यव्यापी कार्यक्रम 23, 26 और 30 जनवरी को

Ranchi :  केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाये गये NRC और CAA, बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई, किसानों की आत्महत्या सहित अन्य ज्वलंत मुद्दों को लेकर प्रदेश कांग्रेस राज्यव्यापी कार्यक्रम आयोजित करेगी. यह कार्यक्रम तीन दिन 23 जनवरी (सुभाष चंद्र बोस जयंती), 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) और 30 जनवरी (महात्मा गांधी की शहादत) को आयोजित किया जायेगा.

शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेस में प्रदेश प्रवक्ता आलोक दूबे ने यह जानकारी दी. 23,26 और 30 जनवरी को होनेवाले इस कार्यक्रम में बीजेपी की नीतियों को जनता के सामने लाने के साथ-साथ संविधान को बचाने के कार्यक्रम पर कांग्रेस कार्यकर्ता फोकस करेंगे. प्रेस कांफ्रेस में कार्यकारी अध्य़क्ष केशव महतो कमलेश, प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव, राजेश गुप्ता उर्फ छोटू, डॉ मो. तौसिफ उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : राज्यपाल ने कहा-सबसे विशाल है ट्राइबल दर्शन, सीएम बोले- आदिवासी समुदायों की हैं पांच हजार संस्कृतियां

Catalyst IAS
ram janam hospital

सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की नीति से बीजेपी ने संविधान को संकट में डाला

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

आलोक दूबे ने कहा कि बीजेपी सरकार की नीतियों से आये आर्थिक संकट ने देश की जीडीपी को गिरा दिया है. पिछली एक दशक में बेरोजगारी की दर आज सबसे अधिक है. किसानों की बदहाली सहित घरेलू वस्तुओं की  कीमतों में बढ़ोतरी से लोगों की स्थिति अधिक दयनीय हो गयी है.

इन समस्याओं से लोगों को राहत प्रदान करने के बजाय बीजेपी की सांप्रदायिक ध्रुवीकरण नीति से संविधान पर संकट खड़ा हो गया है. इसी कड़ी में CAA, NRC और NPR एक ऐसा पैकेज है, जो असंवैधानिक है. यह पैकेज गरीबों, दलितों, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और भाषाई और धार्मिक अल्पसंख्यकों को लक्षित करता है.

इसे भी पढ़ें :  दूरगामी योजना बनाकर करें विकास कार्य, सरकार, एनजीओ और औद्योगिक घरानों के बीच समन्वय जरूरी: मरांडी

विपक्षी दलों की बैठक  में भारतीय संविधान की रक्षा करने का निर्णय लिया गया

आलोक दूबे ने कहा कि  13 जनवरी को समान विचारधारा वाले विपक्षी दलों की बैठक (यूपीए) में प्रस्ताव पारित कर भारतीय संविधान की रक्षा करने का निर्णय लिया है. इसके तहत अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव के.सी. वेणुगोपाल और प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव के निर्देश पर 23 जनवरी से 30 जनवरी तक प्रदेश कांग्रेस एवं जिला कांग्रेस मुख्यालय में तीन महत्वपूर्ण कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे.

कार्यक्रम का उद्देश्य संविधान की रक्षा करना है

आलोक दूबे ने कहा कि तीनों दिन के कार्यक्रम का उद्देश्य संविधान की रक्षा करना है. 23 जनवरी, सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिवस पर आयोजित कार्यक्रम का उद्देश्य INA की ऐतिहासिक गाथा और ब्रिटिश शाही सत्ता के खिलाफ हुई लड़ाई के संबंध में प्रकाश डालना है. 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर आयोजित कार्यक्रम का उद्देश्य प्रदेश एवं जिला मुख्यालय में संविधान का प्रस्तावना पढ़ना और इसे रक्षा करने की शपथ लेना है.

साथ ही संविधान में निर्धारित मूलभूत सिद्धांतों पर बीजेपी के वर्तमान नीतियों से कैसे खतरा है, इस पर भी प्रकाश डालना है. 30 जनवरी को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का शहादत दिवस है. इस दिन मुख्यालय में महात्मा गांधी की अहिंसा एवं सांप्रदायिक सौहार्द को आगे बढ़ाने के लिए एकता सम्मेलन और प्रार्थना समारोह का आयोजन किया जायेगा. जिसमें गांधीजी के संदेशों पर प्रकाश डाला जायेगा

इसे भी पढ़ें : झारखंड विकास मोर्चा की केन्द्रीय कार्यसमिति गठित, पदाधिकारियों की लिस्ट से बाहर हुए विधायक प्रदीप और बंधु

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button