Ranchi

संत जेम्स चर्च लालपुर : 10 अभ्यर्थियों का दृढ़ीकरण संस्कार संपन्न

  • ऑल सेंट्स चर्च में बपतिस्मा संस्कार भी संपन्न कराया
  • बिशप थियोडोर मास्करेहंस ने कहा, यह संस्कार आपके जीवन में पवित्र आत्मा को आने का अवसर देता है

Ranchi : संत जेम्स चर्च, लालपुर में रविवार को रांची के सहायक बिशप थियोडोर मस्कारेन्हास ने दस अभ्यर्थियों का दृढ़ीकरण संस्कार संपन्न कराया. इस अवसर पर अपने संबोधन में उन्होंने इस संस्कार के महत्व के बारे में बताया.

बिशप ने अपने संदेश में उनसे कहा कि यह एक ऐसा संस्कार है जो आपके दिलों और जीवन में पवित्र आत्मा को आने का अवसर देता है. इसलिए जब आप यह संस्कार ग्रहण करते हैं तो इसका अर्थ यह है कि आपको प्रभु के पास आना है. आपको प्रभु के पवित्र आत्मा को ग्रहण करना है और अपने विश्वास को प्रभु में और अधिक दृढ़ होना है.

इसे भी पढ़ेंः ईसाई धर्मप्रचारक पॉल दिनाकरन के ठिकानों पर आईटी की रेड, 118 करोड़ रुपये की अवैध संपत्ति मिली

जिन लोगों ने संस्कार ग्रहण किया उनमें जोय निशांत मुंजनी, शालिनी मुजुनी, जया वर्षा मुनजनी, विकास मुंजनी, शमी होरो, विश्वनाथ सोरेन, प्रसन कुजूर, संत्युष एक्का, मनीष डांग, अभिषेक हुइस टोपनो शामिल थे.

इस विशेष मौके पर पल्ली पुरोहित फा देव सहाय, फा बोस्को, फा सुशील और पल्ली के विश्वासीगण उपस्थित थे.

इसके बाद बिशप ने सभी ऑल सेंट्स चर्च डोरंडा में बपतिस्मा संस्कार भी संपन्न कराया. इस अवसर पर उन्होंने अपने सन्देश में कहा कि इस संस्कार के द्वारा हम कलीसिया के सदस्य बनते है, ईश्वर के बेटे एवं बेटी बनते हैं.

इस संस्कार के द्वारा हम कलीसिया के करीब आते है, विश्वास के जीवन की शुरूआत करते हैं. इस विश्वास का जीवन जीने के लिए माता पिता एवं धर्म माता पिता का काम है कि आप इसे सही मार्ग दिखायेंगे. प्रभु के विश्वास में लालन-पालन करेंगे तभी यह संस्कार बच्चे के जीवन में सही चरितार्थ होगा.

इसे भी पढ़ेंः कृषि बिल के विरोध में राजभवन में जारी है आंदोलन, लोगों ने कहा- कानून वापस ले सरकार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: