BiharCrime News

सृजन घोटाला : सीबीआइ ने तीन महिलाओं को लिया हिरासत में

Bhagalpur: जिले के बहुचर्चित सृजन घोटाला मामले में सीबीआइ ने बड़ी कार्रवाई करते हुए तीन महिलाओं को हिरासत में लिया है. इसमें अपर्णा वर्मा, राजरानी वर्मा और साहिबगंज की नसीमा खातून शामिल हैं, इन्हें मंगलवार को सीबीआई ने भागलपुर कोर्ट में पेश किया.

इनपर आरोप है कि इन्होंने बैंक कर्मियों और सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड, सबौर के अध्यक्ष, सचिव से मिलीभगत कर सरकारी खाते से जालसाजी और षडयंत्र कर सृजन के विभिन्न बैंक खातों से पैसा ट्रांसफर कर गबन किया.

इसे भी पढ़ें:सावधान! फैल रहा है नया वेरिएंट ओमिक्रॉन, शादी की खुशी में कोरोना प्रोटोकोल भूलना पड़ सकता है भारी

गौरतलब है कि इन सबके खिलाफ 16 फरवरी को गैर जमानती वारंट जारी किया गया था. अपर्णा और राजरानी की गिरफ्तारी सबौर स्थित उनके घर से हुई है, जबकि जसीमा खातून साहेबगंज से अरेस्ट हुई है.

तीनों सृजन महिला विकास सहयोग समिति लि. सबौर की प्रबंधकारिणी सदस्य थीं. तीनों महिला आरोपियों के संबंध घोटाले की मास्टिरमाइंड मनोरमा देवी से भी थे. तीनों के घर पर सीबीआई ने अगस्तय में भी दस्तकक दी थी. हालांकि तब तीनों फरार हो गई थीं.

सृजन घोटाल में सीबीआइ ने आरसी 6 (ए) से जुड़ा मामला 2018 में दर्ज किया था. इसके बाद कोर्ट ने 11 फरवरी 2021 को संज्ञान लिया.

इसे भी पढ़ें:15वें वित्त आयोग के तहत रांची जिला में होगी नियुक्ति, हाइकोर्ट ने केस डिसमिस किया

अलग-अलग सुनवाई के दौरान कई आरोपियों के खिलाफ सम्मन और जमानतीय वारंट जारी किये, लेकिन कोई आरोपी हाजिर नहीं हुआ. इसके बाद कोर्ट ने इनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था.

सृजन घोटाले में दिल्ली और पटना सीबीआइ ने पहले से करीब दो दर्जन प्राथमिकी दर्ज कर रखी है, जिसमें जांच चल रही है. कई अभियुक्तों को गिरफ्तार भी किया गया है. इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय भी जांच कर रही है.

इसे भी पढ़ें:बगैर आदेश के दखल दिलाने जमीन पर पहुंची पुलिस! DGP के पास पहुंची शिकायत

Advt

Related Articles

Back to top button