NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खेल मंत्रालय ने एशियाई खेलों के लिए 804 सदस्यीय दल को दी मंजूरी दी

सरकार 572 खिलाड़ियों, 183 अधिकारियों, 119 कोचों और 21 डाक्टरों और फिजियो और 43 अन्य अधिकारियों का खर्च उठायेगी.

348
mbbs_add

 NewDelhi :  खेल मंत्रालय ने एशियाई खेलों के लिए 804 सदस्यीय दल को मंजूरी दे दी लेकिन कहा कि वह 755 सदस्यों का खर्च उठायेगा जबकि 232 में से 49 अधिकारियों का खर्च सरकार नहीं उठायेगी. मंत्रालय ने भारतीय ओलंपिक संघ द्वारा भेजे गये सभी खिलाड़ियों और अधिकारियों के नामों को मंजूरी दे दी लेकिन यह भी कहा कि 49 अधिकारी अपने महासंघ के खर्च पर जा सकते हैं. सरकार 572 खिलाड़ियों, 183 अधिकारियों, 119 कोचों और 21 डाक्टरों और फिजियो और 43 अन्य अधिकारियों का खर्च उठायेगी.  ये 572 खिलाड़ी 36 खेलों में भाग लेंगे जिनमें 312 पुरूष और 260 महिलाएं हैं.

इसे भी पढ़ेंः सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई की ‘वन स्टेट, वन वोट’ नीति में किया संशोधन

सरकार 26 मैनेजरों का खर्च नहीं उठायेगी

सरकार 26 मैनेजरों का खर्च नहीं उठायेगी जिनके नाम आईओए ने भेजे थे.  इनके अलावा तीन कोचों और 20 अन्य अधिकारियों को भी इस शर्त पर मंजूरी दी गयी है कि उनका खर्च सरकार नहीं उठायेगी.
आईओए ने सोमवार को सूची सरकार को भेजी थी और बिना किसी विवाद के इन्हें हरी झंडी मिल गयी. खेल मंत्रालय ने आईओए के 12 सदस्यीय दल को भी सरकारी खर्च पर जाने की मंजूरी दे दी जिसमें दल प्रमुख और चार उप प्रमुख शामिल हैं.   आईओए ने कहा कि उसके 12 सदस्यीय दल को सरकार से मंजूरी की जरूरत नहीं है क्योंकि उसे वह अपने खर्च पर भेजेगा. उसने मंत्रालय को सूची नहीं भेजी थी जिसने राज कुमार संचेती को दल का उप प्रमुख बनाये जाने पर ऐतराज जताया था.

इसे भी पढ़ें- मसानजोर डैम विवाद : सरयू राय ने सीएम को लिखा पत्र, कहा- समाधान दुमका और वीरभूम स्तर पर संभव नहीं

Hair_club

 572 खिलाड़ी, 122 कोच, 26 मैनेजर, 21 डाक्टर और फिजियो और 63 अन्य अधिकारी  शामिल

आईओए को भेजे गये पत्र में कहा गया  कि एशियाई खेलों में भारतीय दल में 804 सदस्यों की भागीदारी को सरकार की मंजूरी है जिनमें 572 खिलाड़ी, 122 कोच या हाई परफार्मेंस निदेशक, 26 मैनेजर, 21 डाक्टर और फिजियो और 63 अन्य अधिकारी हैं. इसमें कहा गया, इनमें से 755 सदस्यों का खर्च सरकार उठायेगी जिसमें हवाई किराया, वीजा फीस वगैरह शामिल है.  आईओए द्वारा भेजे गये 122 कोचों की सूची में से तीन का खर्च सरकार वहन नहीं करेगी. एथलेटिक्स दल में से सात अधिकारियों का खर्च सरकार नहीं उठायेगी.  चार निजी ट्रेनरों के नाम को भी पी कार्ड वर्ग में मंजूरी दे दी गयी है जिसके मायने हैं कि इनका खर्च सरकार पर नहीं होगा.

इसे भी पढ़ें- आखिर कब होगा 14 हजार करोड़ का एक्शन प्लान, अब तक बिजली की मांग नहीं हो पायी है पूरी

बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल और पीवी सिंधू के फिजियो दल में शामिल

इनमें फर्राटा धाविका दुती चंद के कोच रमेश सिंह और 400 मीटर के कोच बसंत सिंह शामिल हैं.  कुराश टीम के छह अधिकारियों को भी पी कार्ड वर्ग में मंजूरी मिली है.   इसी तरह हैंडबाल में 10 में से पांच अधिकारी अपने खर्च पर जायेंगे.  राष्ट्रमंडल खेलों की तरह एशियाई खेलों में किसी खिलाड़ी के माता पिता को अतिरिक्त अधिकारी के तौर पर मंजूरी नहीं मिली है. बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल और पी वी सिंधू के फिजियो दल में शामिल है और उनका खर्च सरकार उठायेगी.

निशानेबाज हीना सिद्धू के पति अैर कोच रौनक पंडित और जिम्नास्टिक स्टार दीपा करमाकर के कोच बिशेश्वर नंदी भी सरकारी खर्च पर जायेंगे.  572 खिलाड़ियों और 119 कोचों को प्रतिदिन 50 डालर आउट आफ पाकेट भत्ता मिलेगा । वहीं 21 डाक्टरों और फिजियो को 25 डालर प्रतिदिन दिये जायेंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

nilaai_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.