JharkhandRanchi

Good News: झारखंड में भी स्पोर्ट्स सामग्री बनने की उम्मीद, प्लेयर्स को जॉब देने की बनेगी गारंटी

Ranchi: झारखंडी प्लेयर्स ( Players of Jharkhand ) के लिए आने वाले समय में राज्य में नौकरी के अधिक अवसर बनने वाले हैं. राज्य सरकार नए खेल नीति ( Sports policy ) को तैयार करने की ओर बढ़ चुकी है. नई नीति में राज्य में खेल और खिलाड़ियों के लिए बेहतरी की गुंजाइश बनाई जा रही है.

Jharkhand Rai

 

ये भी पढ़ें-  बंधु तिर्की का आरोप, 14वें वित्त आयोग के पैसे का हुआ है बंदरबांट, जांच कराए सरकार 

झारखंडी प्लेयर्स को जॉब ( Job for Jharkhand’s Players ) के लिए दूसरे राज्यों में भटकना ना पड़े, खेल विभाग इस संबंध में योजना बना रहा है. आज झारखंड खेल नीति के प्रस्ताव पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई एक अहम् बैठक में इस पर चर्चा की गयी. विभागीय सचिव पूजा सिंघल और खेल निदेशक अनिल कुमार सिंह ने विभिन्न खेल संघों, साई प्रतिनिधियों के साथ ऑनलाइन कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये उनसे राय मांगी.

Samford

न रही राज्य की नई खेल नीति

झारखंड ओलम्पिक संघ के महासचिव मधुकांत पाठक ( Madhukant Pathak, General Secretary of Jharkhand Olympic Association ) के अनुसार, आज खेल विभाग के साथ नई खेल नीति बनाये जाने पर चर्चा हुई. नीति के प्रस्ताव पर उन्होंने भी अपनी बातें रखीं. 2007 की खेल नीति की बजाए एक नई नीति की जरुरत महसूस की जा रही है. लगातार 3 साल तक नेशनल इंटरनेशनल लेवल पर खेलने वालों और मेडल लाने वालों की शर्त पहले की नीति में है. इसे हटाकर 1 साल किये जाने का सुझाव उन्होंने दिया है. कॉन्फ्रेंसिंग में सचिव के स्तर से झारखंड में ही खेल सामग्री तैयार किए जाने की बात आई, यह स्वागतयोग्य है.

कॉन्फ्रेंसिंग में कौन-कौन हुए शामिल

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा किए गए इस बैठक में खेल विभाग की सचिव पूजा सिंघल और विभागीय पदाधिकारी शामिल हुए. इसके अलावा झारखंड हॉकी संघ एवं कुश्ती संघ के अध्यक्ष भोला नाथ सिंह, वुशू संघ प्रमुख शिवेंदु दुबे, ताइक्वांडो संघ के प्रभात शर्मा एवं संजय शर्मा, साई सेंटर रांची के प्रभारी एसके मोहंती, एथलेटिक्स प्रशिक्षक कर्नल संजय सहित अन्य लोगों ने भी अपनी बातें रखीं.

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: