न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

SPM यूनिवर्सिटी : कुलपति से रो-रोकर बोली छात्रा- पैसे नहीं हैं, इसलिए पैदल ही आती हूं पढ़ने, फीस बढ़ाकर गरीब को शिक्षा से वंचित मत कीजिये सर

eidbanner
285

Ranchi : श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय में मंगलवार को अजीबोगरीब नजारा देखने को मिला. सेमेस्टर फी बढ़ाये जाने से विद्यार्थी काफी नाराज थे. उन्होंने कुलपति कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया. इस दौरान विद्यार्थी कुलपति कार्यालय के समक्ष धरने पर बैठ गये. कुलपति डॉ एसएन मुंडा से विद्यार्थियों ने गुहार लगायी कि फीस में कमी की जाये. ज्ञात हो कि विश्वविद्यालय द्वारा सेमेस्टर फी 1000 रुपये से बढ़ाकर 1200 रुपये कर दी गयी है.

इसे भी पढ़ें- एनएसयूआई और एबीवीपी ने यूनिवर्सिटी घेरा, प्राचार्य को कहा ‘नो एंट्री’

मां रेजा का काम करके मुश्किल से मुझे पढ़ा रही है, कहां से दूं बढ़ी हुई फीस

कुलपति के कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन के दौरान विश्वविद्यालय की एक छात्रा काफी भावुक हो गयी. उसने रो-रोकर अपनी व्यथा सुनायी. उसने कहा कि उसकी मां काफी गरीब है. रेजा का काम करके उसकी मां उसे पढ़ा रही है. उसके पास पैसे नहीं हैं, इसलिए ऑटो-रिक्शा भाड़े के 20 रुपये बचाने की खातिर वह पैदल ही पढ़ाई करने के लिए विश्वविद्यालय आती है. ऐसे में वह फीस में 200 रुपये की वृद्धि कैसे सहन कर सकती है. उसने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा फीस वृद्धि करना गरीब विद्यार्थियों को पढ़ाई से वंचित करने के समान है. छात्रा ने भावुक होकर कुलपति से गुहार लगायी कि किसी तरह से फीस वृद्धि पर रोक लगायी जाये, ताकि गरीब विद्यार्थियों को पढ़ाई का अवसर सरकारी विश्वविद्यालय के माध्यम से मिल सके.

इसे भी पढ़ें- मध्याह्न भोजन के लिए बननेवाले सेंट्रलाइज्ड किचन की स्थिति ठीक नहीं

Related Posts

लातेहारः SDO सह LRDC जयप्रकाश झा समेत पांच रेवेन्यू अफसरों पर धोखाधड़ी का केस दर्ज, जमीन का फर्जी दस्तावेज तैयार कर हड़प ली दिव्यांग की राशि

भुसाड़ ग्राम निवासी जंगाली भगत ने टोरी-महुआमिलान नई वीजी रेलवे लाईन निर्माण में स्वीकृत भूमि अधिग्रहण की राशि में हेराफेरी करने का लगाया आरोप

कुलपति ने मांग को किया पूरा

विद्यार्थियों के प्रदर्शन और उनके आक्रोश को देखते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति ने विश्वविद्यालय अधिकारियों के साथ बैठक कर फीस वृद्धि के पहले लिये गये फैसले को वापस लेते हुए फीस में 50 रुपये वृद्धि की. कुलपति ने कहा कि विश्वविद्यालय में पुराना फी स्ट्रक्चर चल रहा है. इसके कारण विश्वविद्यालय को परेशानी हो रही है. अतः विद्यार्थियों की मांग देखते हुए फीस में मात्र 50 रुपये की वृद्धि विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से की जा रही है, जो छात्रों के हित में होगी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: