National

नमस्ते ट्रंप पर 100 करोड़ रु खर्च किये तो फिर मजदूरों के लिए मुफ्त रेल यात्रा क्यों नहीं: प्रियंका गांधी

New Delhi : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रवासी श्रमिकों से रेलवे द्वारा कथित तौर पर किराया लिये जाने को लेकर सोमवार को सरकार पर निशाना साधा.

साथ ही सरकार से सवाल किया कि जब नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम पर 100 करोड़ रुपये खर्च किये जा सकते हैं, तो फिर संकट के समय मजदूरों को मुफ्त रेल यात्रा की सुविधा उपलब्ध क्यों नहीं कराई जा सकती?

इसे भी पढ़ें –झारखंड की जेल में बंद अपराधी बाहरी दुनिया के संपर्क में! रच रहे आपराधिक घटनाओं की साजिश

ram janam hospital
Catalyst IAS

उन्होंने ट्वीट किया, मजदूर राष्ट्र निर्माता हैं. मगर आज वे दर दर की ठोकर खा रहे हैं. यह पूरे देश के लिए आत्मपीड़ा का कारण है.

The Royal’s
Sanjeevani

प्रियंका ने सवाल किया कि, जब हम विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को हवाई जहाज से निशुल्क वापस लेकर आ सकते हैं, जब नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में सरकारी खजाने से 100 करोड़ रु खर्च कर सकते हैं.

जब रेल मंत्री पीएम केयर्स कोष में 151 करोड़ रु दे सकते हैं, तो फिर मजदूरों को आपदा की इस घड़ी में निशुल्क रेल यात्रा की सुविधा क्यों नहीं दे सकते?

इसे भी पढ़ें –झारखंड में सिर्फ कोल्हान और रांची विवि ही दे रहे वीडियो लेक्चर, बाकि कर रहे यूजीसी की अनदेखी

रेल यात्रा का पूरा खर्च उठाएगी कांग्रेस – सोनिया गांधी

कांग्रेस महासचिव ने कहा, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि वह घर लौटने वाले मजदूरों की रेल यात्रा का पूरा खर्च उठाएगी.

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को कहा कि इन मजदूरों के लौटने पर होने वाले खर्च का वहन पार्टी की प्रदेश इकाइयां करेंगी.

उन्होंने एक बयान में कहा कि कांग्रेस ने कामगारों की इस निशुल्क रेलयात्रा की मांग को बार-बार उठाया है. दुर्भाग्य से न सरकार ने एक सुनी और न ही रेल मंत्रालय ने. इसलिए कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि हर प्रदेश कांग्रेस कमेटी हर जरूरतमंद श्रमिक व कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी.

इसे भी पढ़ें – सराहनीय : कोरोना वारियर्स के लिए बॉलीवुड और हॉलीवुड सितारों ने घर बैठे कॉन्सर्ट में लिया हिस्सा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button