JharkhandRanchi

रांची समेत छह जिलों में कोविड-19 हेल्थ केयर फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए शुरू होगा विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम

  • श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के प्रस्ताव को मिली मंजूरी
  • 21 दिनों के प्रशिक्षण के उपरांत जिले के अस्पतालों में 3 महीने की ऑन जॉब ट्रेनिंग दी जाएगी

Ranchi: राज्य के 7 जिलों- रांची, कोडरमा, हजारीबाग, चतरा, पलामू, दुमका और देवघर में कोविड-19 हेल्थ केयर फ्रंटलाइन वर्कर्स विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारंभ किया जायेगा. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के इस प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है. ज्ञात हो कि केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय द्वारा कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सभी राज्यों को डिजास्टर मैनेजमेंट 2005 के सुसंगत धाराओं/ नियमों को शिथिल करते हुए स्वास्थ्य सेक्टर में 6 पाठ्यक्रमों के तहत आयोजित किये जाने वाले विशेष प्रशिक्षण के लिए संबंधित प्रशिक्षण केंद्र प्रारंभ करने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ें :तेजप्रताप यादव की तबीयत अचानक बिगड़ी, इलाज के बाद घर पहुंचे

यह है उदेश्य

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में केंद्रीय घटक के अंतर्गत स्वास्थ्य सेक्टर में कोविड-19 हेल्थ केयर फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत की गयी है , क्योंकि कोविड-19 की दूसरी लहर के दरम्यान प्रशिक्षित हेल्थ केयर कर्मियों के अभाव की वजह से हेल्थ केयर सिस्टम पर अप्रत्याशित दबाव महसूस किया गया.

ऐसे में तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर हेल्थ केयर सेक्टर को बेहतर बनाने की दिशा में फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए यह प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया है.

इसे भी पढ़ें :अंशदायी पेंशन योजना के प्रस्ताव को मिली सीएम की मंजूरी, कैबिनेट में लाया जायेगा

200 घंटे का होगा प्रशिक्षण कार्यक्रम

यह विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम लगभग 200 घंटे और 21 दिनों का है. प्रशिक्षण के उपरांत 3 महीने की ऑन जॉब ट्रेनिंग जिला कौशल समिति की अनुशंसा में संबंधित जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और जिला अस्पताल में दी जायेगी.

इसे भी पढ़ें :अमन साहू गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार, भारी मात्रा में हथियार बरामद

Related Articles

Back to top button