Corona_UpdatesJharkhandLead NewsRanchi

जेल में बंद कैदियों को कोरोना से बचाने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स का गठन, हर संभव किये जा रहे प्रयास

Ranchi : कोरोना संक्रमण का खतरा जेलों में बंद कैदियों के लिये भी बरकरार है. जेल में बंद कैदियों के लिये कोरोना से बचाव के लिए हर संभव प्रयास जेल प्रबंधन की ओर से किए जा रहे हैं. पिछले साल कोरोना संक्रमण से जेल में बंद कैदी और जेलों में तैनात जेलकर्मी भी प्रभावित हुए थे, मगर दूसरी लहर में कोरोना से जेल महफूज हैं.

झारखंड के जेल प्रशासन कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के प्रति सचेत हैं. जेल आईजी वीरेंद्र भूषण ने बताया कि झारखंड के जेलों में वायरस को रोकने के लिए हरसंभव प्रयास किए गए हैं. स्पेशल टास्क फोर्स का गठन कर बंदियों का पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड मेंटेन करना शुरू कर दिया गया है. जिस कैदी पर थोड़ा भी लक्षण दिखाई दे रहा है, उनको आइसोलेट कर दिया जा रहा है.

advt

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही जेल परिसर को समय-समय पर सेनेटाइज भी कराया जा रहा है. इस समय जेल में बंद कैदियों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए जेल प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है.

झारखंड के सभी जेल कोविड संक्रमण के प्रकोप से बचे हुए हैं. पिछले साल कोरोना संक्रमण से जेल में बंद कैदी और जेलों में तैनात जेलकर्मी भी प्रभावित हुए थे. लेकिन इस बार एक तरफ जहां कोरोना ने पूरे झारखंड में तबाही मचा रखी है लेकिन जेल में बंद कैदी पूरी तरह सुरक्षित हैं. झारखंड का जेल प्रशासन कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के प्रति सचेत है. इसके लिए हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं.

इतना ही नहीं कोरोना संक्रमण की इस चुनौती से निपटने के लिए जेलों में खास इंतजाम भी किए जा रहे हैं, वहीं जेलों के अंदर कोविड केयर सेंटर भी बनाये गए हैं. इसके साथ ही कैदियों को कोरोना से बचाव के लिए मास्क, सेनेटाइजर भी मुहैया कराया जा रहा है. हर कैदी को तीन तीन मास्क दिए गए हैं, जबकि उनके खानपान में बदलाव किए गए ताकि कोरोना के संक्रमण से उन्हें बचाया जा सके. जेलों में एक साथ खाना खाने पर भी पाबंदी लगा दी गई है. जेल आईजी ने बताया कि सुरक्षा के साथ साथ कैदियों का वैक्सीनेशन भी कराया जा रहा है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: