न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पिता से मुलाकात कर बोले तेजप्रताप – झारखंड में तेजी से बढ़ रहा अपराध

5,918

Ranchi: अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने रांची आये बेटे तेज प्रताप ने कई दिनों बाद मीडिया से खुलकर बात की. इस दौरान तेजप्रताप के तेवर काफी बदले हुए दिखे. उन्होंने कहा कि बीजेपी की सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए एकजुट होना पड़ेगा. तेजप्रताप ने झारखंड के संदर्भ में कहा कि अखबारों के माध्यम से पता चलता है कि यहां लूट, हत्या और अपराध बढ़ गये हैं. यहां हत्या ऐसा होता है कि जैसा कुकुरमुत्ता हो गया है और झारखंड की सरकार इस तरह की कई समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दे रही है.

तेजप्रताप ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि वह फिलहाल किसी भी तरह के मानसिक तनाव से नहीं गुजर रहे हैं. साथ ही कहा घर नहीं जाने के सवाल पर तेज प्रताप ने कहा कि यह मेरी पर्सनल लड़ाई है. जब जनता मेरे साथ है तो कोई तनाव मुझे नहीं हो सकता. उन्होंने बताया कि लालू जी की तबियत ठीक नहीं है. लंबे समय से नहीं मिला था, इसिलए पिता से मिलने आ गया. तेज ने कहा कि पिता ने उनसे एकजुटता के साथ बिहार-झारखंड में काम करने को कहा है.

मीडिया के सामने इसके अलावा तेजप्रताप ने कहा कि मैं वृंदावन श्रीकृष्ण जी का सुदर्शन चक्र लेने गया था, ताकि दुष्टों का विनाश कर सकूं. उन्होंने बताया कि पूरी जनता मेरी बात सुनती है. उन्होंने यह स्पष्ट नहीं बताया कि उनकी नजरों में दुष्ट कौन है और उन्होंने दुष्ट किसे कहा. पार्टी के अंदर दुष्ट हैं या परिवार के अंदर.

कमलनाथ के बयान पर तेजप्रताप ने कहा कि सब हताश हो गये हैं. उन्होंने कहा कि आरएसएस और बीजेपी के लोग सभी दल में घुसे हुए हैं. यह समझने वाली बात है. जनता सब समझती है. कमलनाथ के दिये बयान पर वह बचते दिखे. उन्होंने कहा कि युवा जेट प्लेन की तरह है. यूपी-बिहार के युवाओं की तेजी और उन्नती को कोई नहीं रोक सकता है. उन्होंने युवाओं के रोजगार से जुड़े सवाल पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया और पूछा कि युवाओं को रोजगार देने के लिए सरकार ने उद्योग धंधे लगाने की बात कही थी. उसका क्या हुआ. सभी को 15-15 लाख रुपये रुपये भी नहीं मिले.

उन्होंने कहा कि आज के समय में श्रीकृष्ण बहुत प्रासंगिक हैं. इसके अलावा कहा कि मैंने अर्जुन (तेजस्वी) को गांधी मैदान में आशीर्वाद दिया है कि मैं अपने अर्जुन (तेजस्वी) को बिहार का मुख्यमंत्री बनाऊंगा. पूरे बिहार की जनता साथ देने को तैयार है.
लालू यादव के जेल में बंद होने के संदर्भ में तेजप्रताप ने कहा कि उन्हें फंसाया गया है. उन्होंने कहा कि इससे जनता में आक्रोश है. उन्होंने कहा कि तुम जितना दबाओगे, जितना प्रताड़ित करोगे उतना तीव्र गति से लालू निकलकर बाहर आयेंगे. उतना ही दोगुना ज्यादा वोट मिलेगा. वायु और जल की प्रवाह की तरह लालू को कोई रोक नहीं सकता.

घर वापसी के सवाल पर उन्होंने कहा कि अगर मैं घर जाऊंगा तो जनता को कौन देखेगा. अभी मुझे जनता को देखना है, राजनीति करना है, सरकार बनाना है, तभी घर जाऊंगा. घर में रहते न राजनीति होगा और न ही मेरा सुदर्शन चक्र चलेगा. कुरुक्षेत्र में रहकर ही ऐसा हो सकता है.

बिहार के सीएम नीतीश कुमार के महागठबंधन से जुड़े तेजस्वी के बयानों पर तेजप्रताप ने कहा कि कोई भी आदमी यहां आना चाहता है तो सबके लिए दरवाजा खुला है. लेकिन इस बारे में राष्ट्रीय अध्यक्ष ही निर्णय लेंगे.

राममंदिर के सवाल पर तेजप्रताप यादव ने कहा कि राम का मंदिर जरूर बनना चाहिए. लेकिन जिस दिन बीजेपी और आरएसएस वाले राममंदिर बना देंगे, उसी समय वह ध्वस्त हो जायेंगे. पूजा-पाठ सिर्फ बीजेपी-आरएसएस वालों के लिए नहीं है. आरएसएस को खत्म करने के लिए डीएसएस की स्थापना की है. डीएसएस का मतलब धर्मनिर्पेक्ष स्वयंसेवक संघ है. आशुतोष जी झारखंड के अध्यक्ष हैं. इसके परेड पीटी में हिंदू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई सभी शामिल होते हैं.

इसे भी पढ़ेंः आधार कार्ड के लिए दबाव बनाना पड़ेगा महंगाः कंपनी को देना पड़ सकता है एक करोड़ का जुर्माना

इसे भी पढ़ेंःमिलेगी राहत ! 99 प्रतिशत चीजों को 18 % जीएसटी स्लैब में लाने की तैयारी में सरकार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: