न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

महागठबंधन पर बोले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अजय- परिवार में खटपट होने पर कोई घर नहीं छोड़ता

2,006

Ranchi: कोलेबिरा उपचुनाव के बाद महागठबंधन के भविष्य को लेकर उठ रहे सवाल पर विराम लगाते हुए झारखंड प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा है कि विपक्ष के साथ कांग्रेस का गठबंधन मजबूत है. कोलेबिरा उपचुनाव के परिणाम का इसपर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है. उन्होंने कहा कि परिवार में कभी-कभार खटपट किसी स्थिति हो जाती है,  तो क्या इससे कोई घर छोड़ देता है. वही महागठबंधन के स्वरूप नहीं बनने के कारण मेनन एक्का को समर्थन दिये जाने के हेमंत सोरेन के बयान पर कहा कि राज्य की 14 लोकसभा सीटों में से 10-11 में और 81 विधानसभा सीटों में 65-70 में कोई संशय नहीं है. जरूरी है कि पहले संशय वाली सीटों पर रणनीति बन जाये. बाकी बची सीटों में अलग से बात हो सकती है. इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष ने खूंटी में पत्थलगड़ी की रिपोर्ट करने वाले ग्रामीण पत्रकार अमित टोप्पो की हत्या का मामला भी जोर-शोर से उठाया.

प्रगतिशील सरकार की स्थापना अब अगला लक्ष्य 

सोमवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में डॉ अजय कुमार ने कहा कि कोलेबिरा की जीत के बाद कांग्रेस पार्टी का एक ही लक्ष्य है “ भाजपा के कुरीतियों को समाप्त करके प्रगतिशील सरकार की स्थापना करना”. महागठबंधन के स्वरूप में कहा कि हमारी नीति, वचन पत्र और न्यूनतम साझा कार्यक्रम से ही महागठबंधन का स्वरूप तय हो सकेगा. कांग्रेस पार्टी ने तो अंग्रेजों को इस देश से भगाया है, तो भाजपा क्या चीज है. जरूरत है सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मन बनाने का. अगर ऐसा होता है कि कांग्रेस पार्टी की जीत तय है.

अमित टोप्पो की हत्या को प्रमुखता दे मीडिया 

गत 13 दिसम्बर को खूंटी में हुए ग्रामीण पत्रकार अमित टोप्पो के मुद्दे पर डॉ अजय कुमार ने कहा कि पत्थलगड़ी की रिपोर्ट करने वाले इस पत्रकार की हत्या ने राज्य को झकझोर दिया है. अमित की हत्या केवल चौथे स्तंभ पर हमला नहीं बल्कि गांव से राजधानी तक खबर पहुंचाने वाले एक सजग प्रहरी की नृशंस हत्या है. मीडिया में हत्या की खबर को प्रमुखता नहीं देना लोकतंत्र के लिए किसी भी तरह सही नहीं है. प्रेस वार्ता में उपस्थित मीडिया से उन्होंने मामले को प्रमुखता देने की अपील की, ताकि मामले की असली आरोपियों को कानूनी दंड मिल सके. दूसरी तरफ हत्या मामले में सरकार द्वारा बरती जा रही शिथिलता पर कहा कि मोदी सरकार पत्रकारों को दबाने का काम कर रही है. कुछ दिन पहले भी रघुवर सरकार ने मीडिया के प्रति बर्बरतापूर्ण रूख अपनाया था. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा पत्रकारों के साथ खड़ी है.

आगामी चुनावों का आगाज है कोलेबिरा परिणाम :  आलमगीर आलम 

कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि कोलेबिरा विधानसभा चुनाव परिणाम आगामी चुनावों का आगाज है. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में लोग अब विश्वास कर रहे हैं. पारा शिक्षकों, पत्रकारों और खूटीं के पत्रकार की हत्या पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि  लागातार हो रही मौत चिन्ता का विषय है. पारा शिक्षकों की समस्याओं को लेकर उन्होंने 26 जनवरी को स्थगन प्रस्ताव लाने की बात कही. एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि विधानसभा चलाने की जिम्मेदारी सरकार को है. अगर जनता की मांगों पर सरकार गंभीर होती है कि कांग्रेस पार्टी का सरकार को सदन चलाने में पूरा सहयोग मिलेगा.

इसे भी पढ़ेंः जितना सीएम विज्ञापन में खर्च करते हैं उतने में पारा शिक्षकों का स्थायीकरण हो जाएगाः कांग्रेस

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: