DeogharJharkhand

देवघर के बाबा मंदिर में प्रयोग के तौर पर शुरू की गयी स्पर्श पूजा

पुरोहितों द्वारा बार -बार इसकी की जा रही थी मांग

Deoghar : देवघर के विश्वप्रसिद्ध बाबा मंदिर में मंगलवार से बाबा बैद्यनाथ के कामना लिंग पर जलार्पण के लिए स्पर्श पूजा की शुरुआत हुई. हालांकि स्पर्श पूजा कब तक जारी रहेगी या वापस अरघा से जलार्पण किया जाएगा, इस बारे में अब तक अंतिम निर्णय नहीं लिया जा सका है.

जानकारी हो कि कोरोना संक्रमण की शुरुआत से बाबा मंदिर को आम श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया गया था. बाद में सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार बाबा मंदिर आम भक्तों के लिए खोला गया लेकिन भक्तों को अरघा के माध्यम से जलार्पण की अनुमति मिली. देवघर के तीर्थ पुरोहितों द्वारा बार -बार यह मांग की जा रही थी कि अब जब आम जनजीवन लगभग सामान्य हो चुका है तो ऐसे में बाबा मंदिर में परंपरा के अनुसार स्पर्श पूजा होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें :जेपी केंद्रीय कारा में कैदियों को गांजे की आपूर्ति करने वाला जेल कर्मी बर्खास्त

Sanjeevani

डीसी बोले, इस मसले पर अभी अंतिम निर्णय होना है

इसी के बाद मंगलवार से आम श्रद्धालुओं के लिए बाबा मंदिर में स्पर्श पूजा फिर से शुरू की गयी. इस बाबत जानकारी देते हुए देवघर डीसी मंजूनाथ भजंत्री ने बताया कि देवघर के तीर्थ पुरोहित समाज की तरफ से पिछले कई समय से अरघा हटाने की मांग की जा रही थी. अभी कोरोना संक्रमण की स्थिति पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है. ऐसे में बाबा मंदिर की परंपरा और लोगों के स्वास्थ के मद्देनजर अभी प्रयोग के तौर पर स्पर्श पूजा की शुरुआत की गई है और इस मसले पर अंतिम निर्णय लिया जाना अब भी बाकी है.

इसे भी पढ़ें :The Biggest Cyber Scam: गढ़वा में किसानों के मुआवजे के 10 करोड़ उड़ा लिये

Related Articles

Back to top button