NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्पैरो सॉफ्टेक का नया खेल, होल्डिंग टैक्स वसूला 3767 रुपये, जमा किये सिर्फ 1290 रुपये

408

Nitesh Ojha

Ranchi : शहर में होल्डिंग टैक्स की वसूली करनेवाली एजेंसी स्पैरो सॉफ्टेक प्राइवेट लिमिटेड के कर्मचारी द्वारा भ्रष्टाचार किये जाने का नया मामला सामने आया है. यह मामला वार्ड नंबर 53 (वर्तमान में वार्ड 52) स्थित अपर हटिया स्थित कोयरी मोहल्ला में रहनेवाले विश्वनाथ महतो के घर के होल्डिंग टैक्स से जुड़ा है. टैक्स वसलूनेवाले कर्मचारी ने विश्वनाथ महतो से जितनी राशि ली थी, उससे काफी कम राशि निगम की ऑफिशियल वेबसाइट पर एंट्री कर दी. इसकी जानकारी मिलने के बाद निगम के राजस्व शाखा के प्रभारी फरहत अनीसी ने भी एजेंसी की इस कार्यशैली पर नाराजगी जतायी है. इसी तरह वार्ड में रहनेवाली मंजू देवी का मकान करीब 440 स्क्वॉयर फीट पर है. जबकि, स्पैरो सॉफ्टेक के कर्मचारी ने 1003 स्क्वॉयर फीट के हिसाब से होल्डिंग टैक्स की राशि का निर्धारण कर दिया है. मालूम हो कि झारखंड नगरपालिका संपत्ति कर नियमावली 2013 के तहत शहर के जितने भी मकान हैं, उनके एरिया का मूल्यांकन कर होल्डिंग टैक्स का स्वनिर्धारण करने की बात की गयी थी. कहा गया था कि जो लोग अपने मकान के होल्डिंग टैक्स का स्वनिर्धारण फॉर्म या ऑनलाइन माध्यम से नहीं करेंगे, तो संबंधित एजेंसी के कर्मचारी स्वयं उनके घर पर पहुंचकर होल्डिंग टैक्स का निर्धारण कर देंगे.

इसे भी पढ़ें- सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पुनः नियुक्ति पर रोक लगाने को लेकर मेयर ने सीएम को लिखा पत्र

ऐसे पकड़ में आयी स्पैरो सॉफ्टेक की करतूत

न्यूज विंग संवाददाता को पूरे मामले की जानकारी देते हुए पीड़ित विश्वनाथ महतो ने बताया है कि उनके मकान का होल्डिंग नंबर 0530002110000A6 है. गत 21 मार्च को स्पैरो सॉफ्टेक प्राइवेट लिमिटेड एजेंसी के कर्मचारी ने उनके घर आकर होल्डिंग टैक्स वसूला था. वित्तीय वर्ष 2016-2017 से 2017-2018 के तहत कर्मचारी ने होल्डिंग टैक्स के लिए उनसे करीब 3767 रुपये की राशि ली. बाद में जब उन्होंने अपने वार्ड पार्षद निरंजन कुमार को होल्डिंग टैक्स की जानकारी दी, तो वार्ड पार्षद ने निगम की वेबसाइट www.rmc.in  पर विश्वनाथ महतो के होल्डिंग टैक्स की राशि का पता लगाया, तो इसी वित्तीय वर्ष के दौरान बेवसाइट पर केवल 1290 रुपये जमा किये जाने की बात सामने आयी.

स्पैरो सॉफ्टेक का नया खेल, होल्डिंग टैक्स वसूला 3767 रुपये, जमा किये सिर्फ 1290 रुपये
पीड़ित से 3767 रुपये होल्डिंग टैक्स वसूले जाने की रसीद.
स्पैरो सॉफ्टेक का नया खेल, होल्डिंग टैक्स वसूला 3767 रुपये, जमा किये सिर्फ 1290 रुपये
रांची नगर निगम की वेबसाइट पर एंट्री की गयी राशि (1290 रुपये) की रसीद की हार्ड कॉपी.

इसे भी पढ़ें- मृत्यु प्रमाणपत्र के लिए हिंदी में आवेदन नहीं लेता RMC, यह राष्ट्रभाषा का अपमान है, हिंदी में भी लें…

निगम में की थी शिकायत, पर नहीं हुई कार्रवाई : पार्षद

मामले पर वार्ड नंबर 52 के पार्षद निरंजन कुमार ने न्यूज विंग को बताया कि पीड़ित विश्वनाथ महतो से शिकायत मिलने के बाद उन्होंने निगम के तत्कालीन सहायक कार्यपालक अधिकारी रामकृष्ण कुमार से मुलाकात भी की थी. मौके पर ही उन्होंने इस पर कार्रवाई करने का भरोसा भी दिलाया था. लेकिन, अभी तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गयी है. दूसरी ओर, मकान के क्षेत्रफल से अधिक क्षेत्रफल दिखाकर अधिक राशि वसूलने की बात भी सामने आयी है. निरंजन कुमार ने बताया कि स्पैरो सॉफ्टेक से जुड़े कर्मचारी का यह कोई नया मामला नहीं है. उनके वार्ड पार्षद बनने से पहले भी कई बार इस तरह की शिकायत आती रही है. ऐसे में अब भी अगर निगम के आला अफसर इस पर कोई कार्रवाई नहीं करते हैं, तो होल्डिंग टैक्स की इतनी बढ़ी हुई राशि का भुगतान गरीब लोग कैसे कर पायेंगे.

इसे भी पढ़ें- 6th JPSC : PT पास 17317 छात्रों की बढ़ी परेशानी, आयोग को चाहिए ऑफलाइन कास्ट सर्टिफिकेट, जो सरकार देती…

madhuranjan_add

पहले भी स्पैरो के कर्मचारी हुए हैं सस्पेंड : राजस्व प्रभारी

निगम की राजस्व शाखा की प्रभारी फरहत अनीसी ने मामले पर न्यूज विंग को बताया कि स्पैरो सॉफ्टेक एजेंसी की कार्यप्रणाली से जुड़ा यह कोई नया मामला नहीं है. पहले भी उसके एक कर्मचारी को सस्पेंड किया गया था. फिर से इसी तरह का मामला सामने आता है, तो यह जांच का विषय है.

इसे भी पढ़ें- राज्य में शिक्षा का हालः कॉलेजों में 5 लाख छात्र, चाहिए 12,500 शिक्षक, हैं सिर्फ 2493

स्पैरो सॉफ्टेक ने भी माना, जमा है केवल 1290 रुपये

विश्वनाथ महतो के मामले में स्पैरो सॉफ्टेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के ऑफिसर शैलेंद्र पांडे का मानना है कि वेबसाइट पर केवल 1290 रुपये जमा किया गया दर्शाया गया है. लेकिन, एंजेसी के टैक्स क्लेक्टर द्वारा अधिक राशि काटे जाने की बात उनके समक्ष अभी तक नहीं आयी है. अगर संबंधित पक्ष से होल्डिंग टैक्स पर अधिक राशि काटी गयी है, तो इस पर वह जल्द ही मामले की जानकारी लेकर पीड़ित व्यक्ति की समस्या का निदान करेंगे.

इसे भी पढ़ें- अवैध उगाही का अड्डा बना लातेहार जेल ! हर कदम पर होती है वसूली

उचित कार्रवाई की जायेगी : नगर आयुक्त

अधिक होल्डिंग टैक्स वसूले जाने के बाबत जब नगर आयुक्त शांतनु अग्रहरि से पूछा गया, तो उन्होंने न्यूज विंग को बताया कि स्पैरो सॉफ्टेक के अधिकारी अगर ऐसा करते हैं, तो यह एक बड़ी गलती है. इस पर जो भी उचित कार्रवाई होगी, की जायेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: