न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एसपी ने नक्सल प्रभावित पीरटांड और मुफ्फसिल थाना क्षेत्र में छापेमारी की, 100 टन कोयला जब्त

 कार्रवाई की भनक पीरटांड व मुफ्फसिल थानेदारों को भी नहीं लगी, जब पहुंचे तो एसपी ने दोनों थानेदारों को लगायी फटकार

77

Giridih : गिरिडीह एसपी सुरेन्द्र झा ने पीरटांड के नक्सल प्रभावित इलाके में छापेमारी कर 100 सौ टन से अधिक कोयला जब्त किया है.  गुरुवार देर रात हुई छापेमारी में 75 टन और शुक्रवार की शाम हुई 25 छापेमारी में 25 टन कोयला जब्त किया गया. जब्त कोयले को उठाने के लिए आधा दर्जन जेसीबी और तीन ट्रक लगाये गये. इसके बाद जब्त कोयले के स्टाक को पीरटांड और मुफ्फसिल थाना को सौंपा गया.

छापेमारी की यह कार्रवाई गुरुवार की देर रात और शुक्रवार की शाम दो दिन लगातार चली.  छापेमारी की कार्रवाई के दौरान पीरटांड के खेताडाबर, बिशनपुर, जसपुर, करमाटांड में  हो रहे अवैध धंधे  में धनबाद के कई लोगों के नाम सामने आये हैं.  जिनकी पहचान करने में एसपी झा जुटे हुए हैं.  पुलिस सूत्रों के अनुसार  एसपी ने पीरटांड के जिन इलाकों में गुरुवार देर रात और शुक्रवार की शाम छापेमारी  की वह तमाम इलाके धनबाद से सटे हैं.

इसे भी पढ़ें – नीरज हत्याकांड में संजीव सिंह की पेशी, नोडल ऑफिसर का बयान कलमबंद

एसपी की यह कार्रवाई गोपनीय थी

SMILE

पुलिस सूत्रों की मानें तो एसपी की यह कार्रवाई इतनी गोपनीय थी कि पीरटांड और मुफ्फसिल थानेदारों को भी भनक तक नहीं लगी.  जब दोनों थानेदारों को सूचना मिली कि एसपी झा खुद छापेमारी कर रहे हैं, तो दोनों थानेदार दौड़े-दौड़े वहां पहुंचे. खबर है कि  पीरटांड थानेदार उपेन्द्र राय और मुफ्फसिल थानेदार रत्नमोहन ठाकुर को एसपी ने जमकर फटकार लगाने के साथ दोनों थानेदारों   नसीहत भी दी कि कार्यशैली में सुधार लायें, नहीं तो कार्रवाई के लिए भी तैयार रहें.

एसपी झा ने गुरुवार देर रात पीरटांड के जिन इलाकों में छापेमारी की, वह पूरी तरह से नक्सल प्रभावित  माने जाते हो. पुलिस सूत्रों के अनुसार एसपी झा अपने अंगरक्षकों अजीत कुमार समेत अन्य जवानों के साथ  पीरटांड के खेताडाबर, बिशनपुर, करमाटांड और जसपुर समेत पीरटांड व मुफ्फसिल थाना इलाके के खुखरा समेत कई स्थानों पर छापेमारी की.  इन इलाकों के अलग-अलग स्थानों में कोयले के अवैध डंप पाये गये .

इसे भी पढ़ें – News Wing Impact: जलमीनार में कमीशनखोरी को लेकर विभाग सतर्क, तकनीकी अफसर से सहयोग लेने के आदेश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: