National

SP-BSP गठबंधन में टूट! अखिलेश ने भी अपने संसाधनों पर लड़ने की कही बात

Lucknow: आम चुनाव 2019 में मिली करारी शिकस्त के महज 11 दिनों के बाद बसपा-सपा गठबंधन टूटने की कगार पर है. बसपा प्रमुख मायावती ने जहां गठबंधन से अलग होने के साफ संकेत दिये हैं.

वहीं सपा की ओर से भले ही कोई स्पष्ट संकेत नहीं दिये गये हो, लेकिन सपा अध्यक्ष अखिलेश ने ये कह दिया है कि अब हम अपने साधन और अपने संसाधनों से चुनाव लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ेंःदर्द ए पारा शिक्षक: बेटे को प्रतियोगी परीक्षा नहीं दिला पा रहे अमर, मानदेय मिलता तो परीक्षाएं नहीं छूटतीं

उपचुनावों में अकेले लड़ेगी बसपा

बता दें कि आम चुनाव परिणामों के बाद बहुजन समाजवादी पार्टी की दिल्ली में समीक्षा बैठक हुई. जिसके बाद मायावती ने कहा कि गठबंधन से उनकी पार्टी को फायदे की जो उम्मीद थी.

वो पूरी नहीं हुई, लिहाजा गठबंधन की समीक्षा की जा रही है. साथ ही मायावती ने यूपी में खाली हो रही 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में उतरने का फैसला किया है.

अपने संसाधनों पर लड़ेंगे चुनाव

इधर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव फिलहाल कुछ भी टिप्पणी करने से बच रहे हैं. लेकिन आजमगढ़ में पत्रकारों के काफी कुरेदने पर अखिलेश ने इतना कह ही दिया कि अब हम अपने साधन और अपने संसाधनों से चुनाव लड़ेंगे.

चुनाव नतीजों के बाद पहली बार कैमरे पर आए अखिलेश यादव ने आगे की लड़ाई के लिए नए प्लान पर काम करने की बात कही. उन्होंने कहा कि अब अपना साधन और अपने संसाधन से हम चुनाव लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ेंःतत्कालीन महापौर रमा खलखो के ससुरालवालों ने सतीश चंद्र बाउल की 5.53 एकड़ जमीन पर कर रखा है कब्जा

ज्ञात हो कि लोकसभा चुनाव के रिजल्ट के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने अखिलेश पर हमलावर होते हुए कहा था कि वो अपनी पत्नी डिंपल को तो जीता ही नहीं पाये. मायावती ने कहा कि बसपा को समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन से कोई फायदा नहीं हुआ है. दोनों दलों के बीच वोट ट्रांसफर नहीं हुए.

उन्होंने पार्टी नेताओं से 11 विधानसभा सीटों के उप चुनावों के लिए उम्मीदवारों की सूची बनाने के लिए कहा. यह उपचुनाव, इन विधायकों के लोकसभा के लिए चुने जाने की वजह से होंगे. बीजेपी के नौ विधायकों ने लोकसभा चुनाव जीता है, जबकि बसपा और सपा के एक-एक विधायक लोकसभा के लिए चुने गए हैं.

इसे भी पढ़ेंःपटना में नौ जून को होगी JDU कार्यकारिणी की बैठक

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close