न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साउथ कश्मीर के रिटर्निंग ऑफिसर की घसीटकर पिटाई, सेना पर आरोप

अनंतनाग जिले के दूरू के एसडीएम गुलाम रसूल वानी की सड़क पर घसीटकर पिटाई, शिकायत दर्ज

849

Shrinagar: जम्मू-कश्मीर में चुनावी ड्यूटी पर तैनात एक अधिकारी की पिटाई का मामला सामने आया है. खबर है कि सब डिविजनल मजिस्ट्रेट को सड़क पर करीब 20 मीटर तक घसीटा गया.

mi banner add

बंदूक की नोंक पर उन्हें धमकाया गया, उनके साथ मारपीट भी की गई. और इस मारपीट का आरोप वहां तैनात सेना पर लगा है.  घटना अनंतनाग जिले के दलवाच इलाके में नैशनल हाइवे के श्रीनगर-काजीगुंड हिस्से में मंगलवार को हुई.

इसे भी पढ़ेंः धनबल के इस्तेमाल को लेकर वेल्लोर सीट पर चुनाव रद्द, त्रिपुरा में आगे बढ़ी तारीख

गुलाम रसूल वानी अनंतनाग जिले के दूरू के एसडीएम हैं. और वो लोकसभा चुनाव में साउथ कश्मीर के लिए रिटर्निंग ऑफिसर भी हैं.

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, बातचीत में उन्होंने बताया, ‘मैं चुनाव ड्यूटी पर था. मैं वेसू की तरफ जा रहा था क्योंकि जिलाधिकारी वहां इंतजार कर रहे थे…उन्होंने (सेना) हाइवे पर ट्रैफिक रोका था. जब उन्होंने गाड़ी पर ‘एसडीएम’ लिखा देखा, उन्होंने हमें जाने दिया.’

एसडीएम वानी ने बताया, ‘हम तीन चेक पॉइंट पार कर गए. लेकिन चौथे पर एक सैनिक ने हमें रुकने के लिए कहा. हम तुरंत रुक गए. इस बीच कुछ सैन्यकर्मी आए और हमारी गाड़ी पर हमला किया. पहले उन्होंने मेरे ड्राइवर को पीटा और बाद में हम सब की पिटाई की.’

इसे भी पढ़ेंःRanchi Nomination: उम्मीदवारी में सेठ पर भारी सहाय, लेकिन मोरहाबादी ने हरमू मैदान को दी है मात

Related Posts

डॉ प्रणब मुखर्जी ने कहा,  50 खरब डॉलर की इकोनॉमी की नींव कांग्रेस सरकारों ने डाली है

पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, जो लोग 55 साल के कांग्रेस शासन की आलोचना करते हैं, वे यह बात नजरअंदाज कर देते हैं कि आजादी के वक्त भारत कहां था, और हम कितना आगे आ चुके हैं.

एसडीएम ने घटना की जानकारी देते हुए कहा कि, वारदात के वक्त उनके साथ चार अन्य स्टाफ के सदस्य भी मौजूद थे. उन्होंने बताया, ‘उन्होंने मेरा कॉलर पकड़ा और मुझे सड़क पर 20 मीटर तक घसीटा.

उन्होंने मेरे ऊपर अपनी बंदूकें तान दीं, मेरा मोबाइल फोन छीन लिया और उसे तोड़ दिया.’ साथ ही उनके ड्राइवर का फोन भी तोड़ दिया. अनंतनाग जिले के डिप्टी कश्मिनर की दखल के बाद ही उन्हें वहां से जाने दिया गया.

सेना पर आरोप है कि उन्होंने गाड़ी में रखी चुनाव सामग्री भी नष्ट कर दी. एसडीएम ने मामले की शिकायत डिप्टी कमिश्नर और एसएसपी कुलगाम के पास दर्ज की है. वानी ने मांग की है कि इस मामले में एफआईआर दर्ज की जाए.’

वहीं इस बारे में जब रक्षा प्रवक्ता राजेश कालिया से बात की गई तो उन्होंने बताया कि घटना की डिटेल्स की पुष्टि की जा रही है. वहीं, कुलगाम के एसपी गुरिंदरपाल सिंह ने इस मामले में एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि की है.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव : तमिलनाडु में भारी मात्रा में कैश बरामद, अन्नाद्रमुक के कार्यकर्ताओं को हटाने के लिए…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: